इसलिए पूर्व कप्तान सौरव गांगुली को नहीं भाया विंडीज दौरे के लिए टीम चयन

Updated: 24 July 2019 10:34 IST

गांगुली ने यह भी लिखा कि चयनकर्तांओं के लिए समय आ चुका है कि वो इन चुने गए खिलाड़ियों को सभी फॉर्मेटों के लिए चुनें, जो खिलाड़ियों के भीतर आत्मविश्वास और लय का संचार करने में मदद करेगा.

that Why Sourav Ganguly didn
सौरव गांगुली की फाइल फोटो

नई दिल्ली:

वेस्टइंडीज दौरे के लिए अलग-अलग तीन भारतीय टीमों का ऐलान हो चुका है. टेस्ट के साथ-साथ वनडे और टी20 टीम का चयन भी हो चुका है, लेकिन पूर्व कप्तान व भारत के सबसे कामयाब कप्तानों में से एक सौरव गांगुली को टीम इंडिया के चयन को बिल्कुल भी नहीं भाया. और गांगुली की इस नाखुशी को उनके ट्वीट से समझा जा सकता है, जिन्होंने चयन को लेकर काफी महत्वपूर्ण बात कही है. 

वैसे गांगुली ही नहीं, बल्कि करोड़ों हिंदुस्तानी क्रिकेटप्रेमियों की भी कुछ ऐसी ही राय है, लेकिन अब कुछ देर से ही सही, लेकिन सौरव गांगुली ने इन प्रशंसकों और खिलाड़ियों की आवाज को वजन जरूर दे दिया है. गांगुली ने सोशल मीडिया पर अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा, 'विंडीज दौरे के लिए चुनी गई टीमों में कई ऐसे खिलाड़ी हैं, जो सभी फॉर्मेटों में खेल सकते हैं, लेकिन शुबमन गिल (Shubman Gill) और अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) को वनडे टीम में न देखकर हैरान हूं. 

यह भी पढ़ें:  इसलिए क्रिस गेल हुए भारत के खिलाफ टी-20 सीरीज से बाहर, इन दिग्गजों की हुई टीम में वापसी

गांगुली ने यह भी लिखा कि चयनकर्तांओं के लिए समय आ चुका है कि वो इन चुने गए खिलाड़ियों को सभी फॉर्मेटों के लिए चुनें, जो खिलाड़ियों के भीतर आत्मविश्वास और लय का संचार करने में मदद करेगा. गांगुली ने लखा कि कुछ चुनिंदा खिलाड़ी ही सभी फॉर्मेटों मे खेल रहे हैं. महान टीमों के पास हमेशा ही ऐसे खिलाड़ी होते थे, जो नियमित रूप से खेले. यह सभी को खुश करने वाली बात नहीं, बल्कि देश के लिए सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों को चुनना है और नियमित व स्थिर रहना भर है. 

यह भी पढ़ें:  यह 'बड़ा बदलाव' टेस्ट क्रिकेट के 142 साल के इतिहास में पहली बार होगा

गुजरे रविवार को ही चयनकर्ताओं ने विंडीज दौरे के लिए अलग-अलग तीन  टीमों का चयन किया था. और इसके बाद से ही शुबमन गिल और रहाणे के पक्ष में आवाजें उठनी शुरू की थीं. शुबमन गिल हाल ही में भारत के लिए खेलते हुए विंडीज ए के खिलाफ मैन ऑफ द टूर्नामेंट रहे थे. वहीं वर्ल्ड कप में भारत की विदाई के बाद बीसीसीआई सचिव संजय जगदाले ने कहा था कि वनडे में अजिंक्य रहाणे को नंबर चार पर बल्लेबाजी करनी चाहिए. 

VIDEO:  रविवार को विंडीज दौरे के लिए भारतीय टीम का ऐलान किया गया. 

बहरहाल, सौरव गांगुली की आवाज अब नयी चयन समिति सुनती है या नहीं, यह देखने की बात होगी. बीसीसीआई के अक्टूबर में चुनाव होने हैं. तब नयी सेलेक्शन कमेटी आएगी और तब नई चयन पॉलिसी की भी शुरुआत होगी. 
 


 

Comments
हाईलाइट्स
  • सौरव की सधी बात !
  • सुनी जाएगी सौरव की बात ?
  • अक्टूबर में आएगी नई सेलेक्शन कमेटी
संबंधित खबरें
IND vs AUS: मुंबई वनडे में करारी हार के बाद BCCI प्रमुख Sourav Ganguly ने टीम इंड‍िया को यूं द‍िया हौसला..
IND vs AUS: मुंबई वनडे में करारी हार के बाद BCCI प्रमुख Sourav Ganguly ने टीम इंड‍िया को यूं द‍िया हौसला..
सुनील गावस्कर ने रणजी ट्रॉफी को लेकर सौरव गांगुली को दिया बड़ा संदेश, लेकिन...
सुनील गावस्कर ने रणजी ट्रॉफी को लेकर सौरव गांगुली को दिया बड़ा संदेश, लेकिन...
कुछ ऐसे सचिन तेंदुलकर ने की सौरव गांगुली की फिटनेस को लेकर खिंचाई
कुछ ऐसे सचिन तेंदुलकर ने की सौरव गांगुली की फिटनेस को लेकर खिंचाई
शोएब अख्तर ने आईसीसी के चारदिनी टेस्ट के प्रस्ताव पर सौरव गांगुली से जतायी यह उम्मीद
शोएब अख्तर ने आईसीसी के चारदिनी टेस्ट के प्रस्ताव पर सौरव गांगुली से जतायी यह उम्मीद
बीसीसीआई के बॉस सौरव गांगुली के इस विचार से गदगद हुआ क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया
बीसीसीआई के बॉस सौरव गांगुली के इस विचार से गदगद हुआ क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया
Advertisement