Kpl Spot Fixing: दो आरोपी खिलाड़ी पुलिस हिरासत में ही रहेंगे, लेकिन इस पूर्व भारतीय क्रिकेटर को लेकर चर्चा जोरों पर

Updated: 29 November 2019 18:56 IST

जिन आरोपियों को जमानत मिली है उनमें बेंगलुरू ब्लास्टर्स के निशांत सिंह शेखावत और विश्वनाथन, उनके गेंदबाजी कोच वीनू प्रसाद और बलारी टस्कर्स के भुवनेश बाफ्ना के नाम शामिल हैं.

Kpl Spot Fixing: two accused will still be in custody, but buzz is in air for this former India player
कर्नाटक के लिए खेल चुके सीेएम गौतम

बेंगलुरू:

कर्नाटक प्रीमियर लीग (केपीएल) में आरोपी खिलाड़ी सी.एम. गौतम और अब्ररार काजी के अलावा सट्टेबाज को पुलिस हिरासत में ही रखा जाएगा, जबकि बाकियों को जमानत दे दी गई है. एक अधिकारी ने शुक्रवार को इस बात की जानकारी दी. केंद्रीय अपराध शाखा के पुलिस उप-आयुक्त कुलदीप जैन ने कहा, "काजी और गौतम तथा सट्टेबाज सय्यम पुलिस हिरासत में ही रहेंगे, जबकि अन्य आरोपियों को जमानत दे दी गई है." लेकिन पूर्व भारतीय क्रिकेटर को लेकर सवाल और चर्चा बरकरार है. कर्नाटक ही नहीं,बल्कि भारतीय क्रिकेट सर्किल में यह चर्चा हो रही है कि इस पूर्व क्रिकेटर को पुलिस ने सवाल-जवाब के लिए तलब किया है. 

यह भी पढ़ें:  इसलिए संजय बांगड़ ने रवींद्र जडेजा को दी क्रुणाल पंड्या पर वरीयता

बेंगलुरू ब्लास्टर्स की टीम के सदस्य काजी और गौतम को सात नवंबर को भारतीय अपराध संहिता (आईपीसी) की धारा 420 के तहत पूछताछ के लिए हिरासत में लिया गया था. हरियाणा के रहने वाले सट्टेबाज सय्यम को 11 नवंबर को गिरफ्तार किया गया था.

यह भी पढ़ें: ट‍िम पेन की डे-नाइट टेस्‍ट की चुनौती को व‍िराट कोहली को स्‍वीकार कर लेना चाहिए: गौतम गंभीर

जिन आरोपियों को जमानत मिली है उनमें बेंगलुरू ब्लास्टर्स के निशांत सिंह शेखावत और विश्वनाथन, उनके गेंदबाजी कोच वीनू प्रसाद और बलारी टस्कर्स के भुवनेश बाफ्ना के नाम शामिल हैं. जैन ने हालांकि यह नहीं बताया कि क्या पुलिस ने अभिमन्यु मिथुन को जांच के लिए समन भेजा है कि नहीं.  पर अभिमन्यु मिथुन को लेकर चर्चा जोर-शोर से है कि उन्हें पुलिस ने सवाल-जवाब के लिए नोटिस भेजा है. 

VIDEO: पिंक बॉल बनने की पूरी कहानी जान लीजिए, स्पेशल रिपोर्ट

एक स्थानीय रिपोर्ट में जैन ने कहा है, "मैं आपके निश्चित सवाल का निश्चित जवाब नहीं दे सकता. हमने कई लोगों को समन भेजा है और जांच जारी है. हमने कई खिलाड़ियों और अधिकारियों को समन भेजा है." मिथुन भारत के लिए चार टेस्ट और पांच वनडे खेल चुके हैं. जैन ने वहीं कहा है कि कर्नाटक राज्य क्रिकेट संघ (केएससीए) से जानकारी निकलवाना एक लंबी प्रक्रिया है जो अभी तक पूरी नहीं हुई है.


 

Comments
Advertisement