इन वजहों से Nayan Mongia को नहीं भाया Rohit Sharma का टेस्ट टीम में चयन

Updated: 16 September 2019 16:28 IST

अब यह तो जानते ही हैं कि पिछले लंबे समय से पूर्व कप्तान सौरव गांगुली, वीवीएस लक्ष्मण, दिलीप वेंगसरकर, किरन मोरे और एडम गिलक्रिस्ट सहित कई और देशी-विदेशी खिलाड़ी रोहित को लगातार टेस्ट में खिलाने की वकालकत कर रहे थे. और टेस्ट में चयन के बाद मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद ने भी कहा कि रोहित को सेलेक्शन कमेटी एक और मौका देना चाहती है.

That
रोहित शर्मा की फाइल फोटो

बड़ौदा:

पिछले दिनों रोहित शर्मा (Rohit Sharma) की भले ही लंबे समय बाद टेस्ट टीम में  वापसी हुई हो, लेकिन उनके इस चयन पर मिश्रित प्रतिक्रिया हुई है. यह सही है कि एक बड़े तबगे ने रोहित शर्मा की टेस्ट टीम में वापसी का स्वागत किया, लेकिन ऐसे भी लोग हैं, जिन्होंने अलग-अलग बातों के लेकर रोहित के चयन पर सवाल उठाए. हालांकि, यह बात अलग है कि बड़े तबगे की जोरदार आवाज और उनके बड़े नामों के होने के चलते 'दूसरी आवाज' दब कर रह गई. बहरहाल, अब पूर्व विकेटकीपर नयन मोंगिया ने रोहित के चयन को गलत बताते हुए सवाल खड़ा किया है. 

यह भी पढ़ें: Ashes 2019: बल्लेबाजी और गेंदबाजी, दोनों में ही छाए रहे ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी..

अब यह तो जानते ही हैं कि पिछले लंबे समय से पूर्व कप्तान सौरव गांगुली, वीवीएस लक्ष्मण, दिलीप वेंगसरकर, किरन मोरे और एडम गिलक्रिस्ट सहित कई और देशी-विदेशी खिलाड़ी रोहित को लगातार टेस्ट में खिलाने की वकालकत कर रहे थे. और टेस्ट में चयन के बाद मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद ने भी कहा कि रोहित को सेलेक्शन कमेटी एक और मौका देना चाहती है. 

बहरहाल, पूर्व विकेटकीपर और कई मैचों मे पारी की शुरुआत करने वाले नयन मोंगिया की रोहित के चयन पर अलग ही राय है. उन्होंने कहा कि टेस्ट में रोहित को सलामी बल्लेबाज बनाने की कोशिश करना नाकाम साबित हो सकता है. उन्होंने कहा कि पारी की शुरुआत करना भी विकेटकीपिंग की तरह ही  एक विशेषज्ञता वाला काम है. यह सही है कि न केवल वनडे में पारी की शुरुआत कर रहे हैं बल्कि उन्होंने कई यादगार पारियां भी खेलीं, लेकिन टेस्ट क्रिकेट में एक अलग ही मनोदशा के संयोजन की जरूरत होती है. 

यह भी पढ़ें:  Steve Smith की बैटिंग और 'हूटिंग' सहित ये 5 बातें रहीं Ashes 2019 में चर्चा का विषय...

मोंगिाया ने कहा कि रोहित को अपनी ताकत से जुड़े रहना होगा. उन्होंने टेस्ट क्रिकेट के हिसाब से अपना खेल ढालने के बजाय अपनी ताकत के इर्द-गिर्द खुद को समेट कर रखना होगा. वजह यह है कि अगर वह टेस्ट के हिसाब से अपनी बल्लेबाजी में बदलाव करते हैं, तो इससे उनका उनका  एकदिनी का खेल भी प्रभावित हो सकता है. मोंगिया ने यह भी कहा कि रोहित की जगह घरेलू क्रिकेट में 800 या 1000 रन बनाने वाले खिलाड़ी को मौका देना चाहिए था. खासतौर पर पांचला और ईश्वरन जैसे खिलाड़ियों को, जिनका औसत 50-60 का रहा है. अगर इन खिलाड़ियों को उचित मौका नहीं दिया जाता है, तो यह सेलेक्टरों के लिहास से सही नहीं होगा. 

VIDEO: धोनी के संन्यास पर युवा क्रिकेटरों की राय सुन लीजिए. 

मोंगिया ने कहा कि सवाल यह है कि सेशन में 800-1000 रन बनाने वाले इन खिलाड़ियों को आखिर कब मौका मिलेगा. रोहित का चयन इन खिलाड़ियों को हतोत्साहित करने जैसा है. 
 

Comments
हाईलाइट्स
  • तीनों भारतीय टीमों का हिस्सा हैं रोहित
  • वेंगसरकर व सौरव जैसे खिलाड़ियों ने टेस्ट में चयन का समर्थन
  • बहुत कुछ अलग होता है टेस्ट में-मोंगिया
संबंधित खबरें
IND vs SA Test Series: कोच रवि शास्त्री बोले,
IND vs SA Test Series: कोच रवि शास्त्री बोले, 'टीम इंडिया की सोच है भाड़ में जाए पिच, हमें 20 विकेट लेने हैं'
IND vs SA Test Series: टीम इंडिया की दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ
IND vs SA Test Series: टीम इंडिया की दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 'क्लीन स्वीप' में ये 5 बातें रहीं खास..
IND vs SA 3rd Test: दोहरा शतक जमाने वाले Rohit Sharma ने मीडिया के साथ यूं की
IND vs SA 3rd Test: दोहरा शतक जमाने वाले Rohit Sharma ने मीडिया के साथ यूं की 'ठिठोली, देखें VIDEO
IND vs SA 3rd Test: Rohit Sharma इस मामले में तो Don Bradman से भी आगे निकल गए...
IND vs SA 3rd Test: Rohit Sharma इस मामले में तो Don Bradman से भी आगे निकल गए...
IND vs SA 3rd Test: भारत जीत से दो विकेट दूर, तीसरे दिन स्टंप के समय द.अफ्रीका का स्कोर 132/8
IND vs SA 3rd Test: भारत जीत से दो विकेट दूर, तीसरे दिन स्टंप के समय द.अफ्रीका का स्कोर 132/8
Advertisement