बल्‍लेबाजी प्रदर्शन में न‍िरंतरता न होने का सवाल उठाने वालों को Sanju Samson ने द‍िया यह जवाब..

Updated: 27 November 2019 18:00 IST

Sanju Samson:संजू सैमसन ने कहा, "मैंने इसके (निरंतरता के) बारे में नहीं सोचा है कि यह एक मुद्दा है. मैंने जो समझा है वह यह है कि मैं थोड़ा अलग तरह का खिलाड़ी हूं और मुझे लगता है कि मैं मैदान पर जाकर गेंदबाजों पर हावी हो सकता हूं. ऐसा हो सकता है कि जब मैं निरंतरता पर ध्यान दूं तो मैं अपनी स्टाइल खो बैठूं. निरंतरता लाने के लिए मैं अपने खेलने की शैली में बदलाव नहीं कर सकता."

Sanju Samson says he is open to keeping wickets for Team India

नई द‍िल्‍ली:

भारतीय टीम के पूर्व क्र‍िकेटर  राहुल द्रविड़ और गौतम गंभीर समय-समय पर संजू सैमसन (Sanju Samson)की तारीफ करते रहे हैं, वहीं आलोचक यह कहते हुए सैमसन को नकारते रहे हैं कि उनके प्रदर्शन में निरंतरता की कमी है. ऐसे में जब टीम के मुख्य कोच रवि शास्त्री ने साफ कर दिया है कि अगले साल ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी-20 वर्ल्‍डकप के लिए टीम में विकेटकीपर की जगह अभी भी खाली है तो सभी के दिमाग में सवाल यही है कि क्या सैमसन वह खाली स्थान भर सकते हैं. सैमसन को वेस्‍टइंडीज के ख‍िलाफ (India vs West Indies) टी20 सीरीज के लिए चोटिल शिखर धवन (Shikhar Dhawan) के स्थान पर भारतीय टीम में जगह मिली है. संजू सैमसन ने अपने क्र‍िकेट से जुड़े व‍िभ‍िन्‍न मुद्दों पर खुलकर चर्चा की. न‍िरंतरता के मुद्दे पर आलोचना करने वालों को भी संजू सैमसन ने जवाब द‍िया.

Sanju Samson ने किया था यह 'बड़ा कमाल', विवादों से भी रहा है नाता

सैमसन ने कहा कि वह विकेटकीपिंग के लिए तैयार हैं और निरंतरता वो चीज नहीं है जिसके कारण उन्हें परेशानी आ रही हो. सैमसन ने कहा कि उनके लिए टीम की जीत में योगदान देना प्राथमिकता है. केरल के इस खिलाड़ी ने कहा, "मैंने इसके (निरंतरता के) बारे में नहीं सोचा है कि यह एक मुद्दा है. मैंने जो समझा है वह यह है कि मैं थोड़ा अलग तरह का खिलाड़ी हूं और मुझे लगता है कि मैं मैदान पर जाकर गेंदबाजों पर हावी हो सकता हूं. ऐसा हो सकता है कि जब मैं निरंतरता पर ध्यान दूं तो मैं अपनी स्टाइल खो बैठूं. निरंतरता लाने के लिए मैं अपने खेलने की शैली में बदलाव नहीं कर सकता." उन्होंने कहा, "मैं चीजों को एकदम सरल रखना चाहता हूं. अगर मुझे पांच पारियां मिलती हैं तो मैं एक या दो पारियों में बड़ा स्कोर करना चाहूंगा और अपनी टीम के लिए मैच जीतना चाहूंगा. मेरी पारी में निरंतरता मेरी टीम को मैच नहीं जिता सकती. टीम के लिए मैच जीतने के लिए जरूरी है कि मैं लाजवाब पारी खेलूं. मैं इस तरह से सोचता हूं."

विकेटकीपिंग के सवाल पर सैमसन ने कहा कि वह इससे कभी भी पीछे नहीं हटते और इस तरह के फैसले लेना टीम प्रबंधन पर है. संजू ने बताया, "मैं पिछले पांच-छह साल से केरल के लिए सीमित ओवरों में विकेटकीपिंग कर रहा हूं. मैंने रणजी ट्रॉफी में भी की है. मैं इसे विकल्प के तौर पर रखता हूं. जो भी टीम चाहेगी वो मैं करूंगा. आईपीएल में जब मेरी टीम ने चाहा, मैंने विकेटकीपिंग की. लेकिन जब उन्हें लगा कि मैं फील्डिंग से योगदान दे सकता हूं तो मैंने वैसा किया. मैंने अपने आप को एक कीपर और फील्डर दोनों के तौर पर तैयार किया है क्योंकि आप नहीं जानते कि टीम क्या देख रही है." दाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने कहा, "इसलिए यह सही नहीं है कि मैं कीपिंग नहीं करना चाहता. मैं हर बार हर किसी को यह नहीं बता सकता कि टीम प्रबंधन में क्या हो रहा है. मैं कीपर हूं और जब मेरी टीम चाहेगी तो मैं करूंगा.मैं टीम को नहीं कह सकता कि मैं क्या चाहता हूं. टीम प्राथमिकता रहती है." सैमसन ने कहा कि वह कप्तान विराट कोहली और कोच रवि शास्त्री के साथ बैठकर आगे के बारे में बात करना चाहते हैं. उन्होंने कहा, "मैं इसके लिए तैयार हूं, मुझे पहले ऐसा करने का मौका नहीं मिला. मैं उनसे बात करने को तैयार हूं."

Sanju Samson का 'विश्व स्तरीय धमाका', न धोनी कर सके, न ही शाह‍िद अफरीदी

क्या उम्मीदों के दबाव ने उनके खिलाफ काम किया है? इस पर सैमसन ने कहा कि वह इन बातों को ज्यादा अहमियत नहीं देते हैं. उन्होंने कहा, "मैं लोगों के विचारों का सम्मान करता हूं, लेकिन मैं इन्हें अपने दिमाग में नहीं आने देता. मैं समझता हूं कि लोगों के अपने विचार होते हैं और वह उसे साझा करना चाहते हैं. इसके साथ ही मैं यह भी जानता हूं कि मैं क्या कर सकता हूं और इस बात को मुझसे बेहतर कोई नहीं जानता. मेरी बड़ी ताकत मेरा विचारों से स्पष्ट होना है." क्या ऑस्ट्रेलिया के लिए उड़ान भरना उनका लक्ष्य है? सैमसन ने जवाब दिया ट्रॉफी जीतना है. उन्होंने कहा, "मेरा सपना भारत के लिए ऑस्ट्रेलिया में खेले जाने वाला टी-20 वर्ल्‍डकप को जीतना है. मैं इसके लिए तैयारी कर रहा हूं, न कि टीम का हिस्सा होने के लिए. मैं अपने देश के लिए वर्ल्‍डकप जीतना चाहता हूं और यही पैमाना मैंने अपने लिए तय किया है. निश्चित तौर पर सपना ट्रॉफी जीतना है क्योंकि हमें वर्ल्‍डकप जीते हुए काफी समय हो गया है.यही सपना है और मैं इस पर काम कर रहा हूं."

वीडियो: प‍िंक बॉल टेस्‍ट को लेकर व‍िकेटकीपर ऋद्धिमान साहा से बातचीत



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
Comments
हाईलाइट्स
  • कहा-बॉलरों पर हावी होकर खेलने बाला बल्‍लेबाज हूं
  • निरंतरता पर ध्‍यान दूंगा तो संभव है स्‍टाइल खो बैठूं
  • निरंतरता के ल‍िए अपनी खेलने की शैली नहीं बदलूंगा
संबंधित खबरें
NZ vs IND: इसलिए पृथ्वी शॉ से रेस में  पिछड़ गए मयंक अग्रवाल, न्यूजीलैंड दौरे के लिए वनडे व टी20 टीम घोषित
NZ vs IND: इसलिए पृथ्वी शॉ से रेस में पिछड़ गए मयंक अग्रवाल, न्यूजीलैंड दौरे के लिए वनडे व टी20 टीम घोषित
IND vs NZ: न्यूजीलैंड दौरे के लिए टी20 टीम में Rohit Sharma और Shami की वापसी
IND vs NZ: न्यूजीलैंड दौरे के लिए टी20 टीम में Rohit Sharma और Shami की वापसी
Ind vs SL 3rd T20I: शिखर धवन ने खोला राज, क्यों ऋषभ पंत की जगह आखिरी मैच में खेले संजू सैमसन
Ind vs SL 3rd T20I: शिखर धवन ने खोला राज, क्यों ऋषभ पंत की जगह आखिरी मैच में खेले संजू सैमसन
IND vs SL: तीसरे टी20 मैच से पहले इस बात को लेकर दुव‍िधा में है टीम इंड‍िया...
IND vs SL: तीसरे टी20 मैच से पहले इस बात को लेकर दुव‍िधा में है टीम इंड‍िया...
Ind vs Wi ODI: Shikhar Dhawan हो सकते हैं वनडे सीरीज से भी बाहर, ये खिलाड़ी हैं चयन के लिए होड़ में
Ind vs Wi ODI: Shikhar Dhawan हो सकते हैं वनडे सीरीज से भी बाहर, ये खिलाड़ी हैं चयन के लिए होड़ में
Advertisement