India vs Bangladesh: ईडन गार्डंस पर डे-नाइट टेस्ट में यह बात बनेगी बांग्लादेश टीम के लिए चिंता का कारण..

Updated: 30 October 2019 16:22 IST

Day-Night Test: ईडन गार्डंस पर होने वाले डे-नाइट टेस्ट में ओस परेशानी का कारण बन सकती है. पूर्व मुख्य क्यूरेटर दलजीत सिंह ने अगले महीने होने वाले इस डे-नाइट टेस्टके दौरान विकेट पर अधिक घास रखने और ओस से बचने के लिये आउटफील्ड पर कम घास रखने की सलाह दी है.

India vs Bangladesh: Daljit Singh advises more grass on pitch for historic day-night Test at Eden Gardens
कोलकाता का Eden Gardens भारत में होने वाले पहले डे-नाइट टेस्ट मैच की मेजबानी करेगा

India vs Bangladesh, Day-Night Test: भारत में डे-नाइट टेस्ट मैच के लिए भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) तैयार है. कोलकाता का मशहूर ईडन गार्डंस  (Eden Gardens) भारत और बांग्लादेश (India vs Bangladesh) के बीच डे-नाइट टेस्ट की मेजबानी करेगा. भारत में होने वाला यह पहला डे-नाइट टेस्ट होगा. भाग लेने वाले दोनों देश भी पहली बार डे-नाइट टेस्ट खेलेंगे. डे-नाइट टेस्ट में ओस परेशानी का कारण बन सकती है. पूर्व मुख्य क्यूरेटर दलजीत सिंह ने अगले महीने भारत में होने वाले पहले डे-नाइट टेस्ट (Day-Night Test) के दौरान विकेट पर अधिक घास रखने और ओस से बचने के लिये आउटफील्ड पर कम घास रखने की सलाह दी है. विकेट पर अधिक घास होने से तेज गेंदबाजों को मदद मिलेगी और ऐसे में मोहम्मद शमी, उमेश यादव जैसे रफ्तार के सौदागर बांग्लादेशी बल्लेबाजी की 'कठिन परीक्षा' ले सकते हैं. वैसे भी तमीम इकबाल और शाकिब अल हसन की गैरमौजूदगी के कारण बांग्लादेश की बल्लेबाजी कमजोर हो गई है. शाकिब पर आईसीसी ने दो साल का बैन लगाया है जबकि तमीम निजी कारणों के चलते भारत दौरे से हट गए हैं.बीसीसीआई और बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (बीसीबी) ने ईडन गार्डन्स में 22 नवंबर से शुरू होने वाले टेस्ट मैच को गुलाबी गेंद से खेलने पर सहमति जताई है.

Shakib Al Hasan पर बैन से बांग्लादेशी क्रिकेटर दुखी, समर्थन में पोस्ट किए यह भावुक मैसेज..

बंगाल क्रिकेट संघ (कैब) को गुलाबी गेंद से मैचों के आयोजन का अनुभव है. भारतीय क्रिकेट में 22 साल तक सेवा देने के बाद बीसीसीआई के मुख्य क्यूरेटर पद से पिछले महीने सेवानिवृत होने वाले दलजीत ने कहा, ‘ओस मुख्य चिंता होगी. इसमें कोई संदेह नहीं. उन्हें समझना होगा कि आप इससे बच नहीं सकते हो.' दलजीत ने कहा, ‘इससे बचाव के लिये आउटफील्ड में घास कम रखनी होगी और पिच पर आम घास से अधिक लंबी घास रखनी पड़ेगी. आउटफील्ड में जितनी अधिक घास होगी, ओस की परेशानी उतनी ज्यादा होगी.' इस मैच के दोपहर बाद एक बजकर 30 मिनट से शुरू होने की संभावना है और खेल रात आठ बजकर 30 मिनट तक चल सकता है. दलजीत का मानना है कि गुलाबी गेंद की चमक लंबे समय तक बनाये रखने के लिये पिच पर अधिक घास रखनी होगी. उन्होंने और उनकी टीम ने 2016 में दलीप ट्रॉफी टूर्नामेंट के दौरान ऐसा किया था जब मैच ग्रेटर नोएडा में दूधिया रोशनी में खेले गए थे.

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान Michael Vaughan बोले, 'Shakib के लिए कोई सहानुभूति नहीं'

उन्होंने कहा, ‘गुलाबी गेंद जल्दी गंदी हो जाती है और इसलिए उन्हें पिच पर अधिक घास रखनी होगी. आपको याद होगा जबकि एडिलेड में (2017 में) पहला डे-नाइट टेस्ट मैच खेला गया था तो उन्होंने पिच पर 11 मिमी घास रखी थी. आपको इतनी घास को तैयार करना होगा. आप मैच के एक दिन पहले इसे नहीं काट सकते या फिर पिच धीमी खेलेगी.' दलजीत ने कहा, ‘(दलीप ट्रॉफी मैचों के दौरान) ओस एक मसला था, गेंद वास्तव में गंदी हो जाती थी. पिच पर सात मिमी घास थी जबकि अमूमन घास 2.5 से चार मिमी लंबी होती है. घास लंबी होने का मतलब है कि गेंद बहुत अधिक सीम करेगी.' एक अन्य क्यूरेटर ने गोपनीयता की शर्त पर मैच से दो तीन दिन पहले से आउटफील्ड की घास पर पानी न डालने की सलाह दी.

उन्होंने कहा, ‘ओस मसला होगा लेकिन तब बहुत अधिक ठंड नहीं रहेगी. सुपरसोपर्स के अलावा ओस से निबटने में उपयोगी रसायनों का उपयोग किया जा सकता है. आउटफील्ड में काफी घास काटनी होगी. मैच से दो दिन पहले पानी डालना बंद करना होगा क्योंकि इससे नमी बन जाएगी.' उन्होंने कहा, ‘आउटफील्ड में हम अमूमन सात से आठ मिमी घास रखते हैं लेकिन डे-नाइट टेस्ट के लिए यह छह मिमी रखी जा सकती है. इससे आप ओस का प्रभाव कम कर सकते हैं लेकिन आप प्राकृतिक परिस्थितियों से पूरी तरह नहीं निबट सकते हो.'

वीडियो: सौरव गांगुली ने बीसीसीआई का अध्यक्ष पद संभाला

Comments
हाईलाइट्स
  • इस डे-नाइट टेस्ट में परेशानी का कारण सकती है ओस
  • ऐसे में पिच पर हो सकती है अधिक घास, आउटफील्ड पर कम
  • पिच पर ज्यादा घास होने से तेज गेंदबाजों को मिलेगी मदद
संबंधित खबरें
विराट कोहली ने पिंक बॉल टेस्ट खेलने को लेकर टिम पैनी के कसे हल्के तंज पर दिया यह जवाब
विराट कोहली ने पिंक बॉल टेस्ट खेलने को लेकर टिम पैनी के कसे हल्के तंज पर दिया यह जवाब
IND vs BAN 2nd Test: विराट कोहली ने दी एलन बॉर्डर को पटखनी, अब ये दिग्गज भी नहीं बचेंगे
IND vs BAN 2nd Test: विराट कोहली ने दी एलन बॉर्डर को पटखनी, अब ये दिग्गज भी नहीं बचेंगे
IND vs BAN 2nd Test: विराट कोहली ने दिया सत्तर के दशक की विंडीज टीम से तुलना पर यह जवाब
IND vs BAN 2nd Test: विराट कोहली ने दिया सत्तर के दशक की विंडीज टीम से तुलना पर यह जवाब
IND vs BAN 2nd Test: विराट कोहली ने बयां किया अपने सीमरों की सफलता का राज़
IND vs BAN 2nd Test: विराट कोहली ने बयां किया अपने सीमरों की सफलता का राज़
Ind vs Ban 2nd Test: बॉलिंग कोच भरत अरुण ने कुछ ऐसे की भारतीय सीम तिकड़ी की जमकर तारीफ
Ind vs Ban 2nd Test: बॉलिंग कोच भरत अरुण ने कुछ ऐसे की भारतीय सीम तिकड़ी की जमकर तारीफ
Advertisement