जिम्‍बाब्‍वे क्रिकेट बोर्ड के खिलाफ ICC की कार्रवाई पर सिकंदर रजा का ट्वीट, 'एक फैसले से कई लोग बेरोजगार हो गए'

Updated: 19 July 2019 13:30 IST

Sikandar Raza: ICC ने गुरुवार को लंदन में हुई अपनी वार्षिक बैठक में जिम्बाब्वे क्रिकेट को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है. निलंबन के पीछे परिषद ने बोर्ड में राजनीतिक हस्तक्षेप को कारण बताया था. बैठक के बाद ICC के अध्यक्ष शशांक मनोहर ने कहा था कि जिम्बाब्वे में जो हुआ वह ICC के संविधान का 'गंभीर उल्लंघन' है.

Sikandar Raza says One Decision Has Ended So Many Career
गुरुवार को लंदन में हुई वार्षिक बैठक में ICC ने जिम्बाब्वे क्रिकेट को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया था

नई दिल्ली:

अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) द्वारा जिम्बाब्वे क्रिकेट बोर्ड (Zimbabwe Cricket) को निलंबित करने के फैसले के खिलाफ आवाज उठनी शुरू हो गई हैं. आवाज उठाने वालों में जिम्बाब्वे के कुछ क्रिकेटर शामिल हैं. पाकिस्तान में जन्‍मे लेकिन जिम्‍बाब्‍वे की ओर से इंटरनेशनल क्रिकेट खेलने वाले  सिकंदर रजा (Sikandar Raz) ने जिम्बाब्वे क्रिकेट बोर्ड के समर्थन में ट्वीट करते हुए लिखा कि ऐसा नहीं है कि वह अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहना चाहते थे. रजा ने ट्विटर पर भावुक पोस्ट करते हुए लिखा, 'कैसे एक निर्णय ने एक टीम को अजनबी बना दिया है, कैसे एक निर्णय ने इतने सारे लोगों को बेरोजगार बना दिया है, एक निर्णय कितने परिवारों को प्रभावित करता है, एक निर्णय ने कितने करियर को समाप्त कर दिया है, निश्चित रूप से मैं ऐसे तो इंटरेनशनल क्रिकेट को अलविदा नहीं कहना चाहता था.'

वीरेंद्र सहवाग ने कहा, MS धोनी को पूरा अधिकार है कब संन्‍यास लें लेकिन चयनकर्ताओं को...

जिम्बाब्वे क्रिकेट टीम के विकेटकीपर-बल्लेबाज ब्रैंडन टेलर ने ट्वीट किया, 'जिम्बाब्वे क्रिकेट को निलंबित करने के ICC के फैसले को सुनते हुए दिल टूट रहा है. जिम्बाब्वे क्रिकेट बोर्ड के पास कोई सरकार नहीं है. फिर भी हमारे अध्यक्ष एक सांसद हैं? सैकड़ों ईमानदार लोग, खिलाड़ी, सपोर्ट स्टाफ, ग्राउंड स्टाफ जो पूरी तरह से जिम्बाब्वे क्रिकेट बोर्ड पर निर्भर करते हैं वह बेरोजगार हो जाएंगे, बिल्कुल इस तरह.

सचिन तेंदुलकर आईसीसी हाल ऑफ फेम में शामिल, जानें और किन खिलाड़ि‍यों को मिला स्‍थान

ICC ने गुरुवार को लंदन में हुई अपनी वार्षिक बैठक में जिम्बाब्वे क्रिकेट को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है. निलंबन के पीछे परिषद ने बोर्ड में राजनीतिक हस्तक्षेप को कारण बताया था. बैठक के बाद ICC के अध्यक्ष शशांक मनोहर ने कहा था कि जिम्बाब्वे में जो हुआ वह ICC के संविधान का 'गंभीर उल्लंघन' है. उन्होंने कहा, 'हम एक सदस्य को निलंबित करने के निर्णय को हल्के में नहीं लेते हैं, लेकिन हमें अपने खेल को राजनीतिक हस्तक्षेप से मुक्त रखना चाहिए. जिम्बाब्वे में जो हुआ है वह ICC संविधान का एक गंभीर उल्लंघन है और हम इसे अनियंत्रित जारी रखने की अनुमति नहीं दे सकते. ICC क्रिकेट चाहता है. 

वीडियो: न्‍यूजीलैंड को हराकर इंग्‍लैंड पहली बार बना वर्ल्‍डकप चैंपियन

Comments
हाईलाइट्स
  • जिम्बाब्वे क्रिकेट में बढ़ते राजनीतिक हस्तक्षेप से निराश था ICC
  • रजा ने कहा कि एक फैसले ने कितने लोगों को बेरोजगार बना दिया
  • टेलर ने लिखा- ICC के फैसले को सुनते हुए दिल टूट रहा है
संबंधित खबरें
जिम्‍बाब्‍वे क्रिकेट बोर्ड के खिलाफ ICC की कार्रवाई पर सिकंदर रजा का ट्वीट,
जिम्‍बाब्‍वे क्रिकेट बोर्ड के खिलाफ ICC की कार्रवाई पर सिकंदर रजा का ट्वीट, 'एक फैसले से कई लोग बेरोजगार हो गए'
BAN vs ZIM: जिम्बाब्वे ने बांग्लादेश को 151 रन से हराया, पांच साल में टीम की यह पहली टेस्‍ट जीत
BAN vs ZIM: जिम्बाब्वे ने बांग्लादेश को 151 रन से हराया, पांच साल में टीम की यह पहली टेस्‍ट जीत
Advertisement