शिवरामाकृष्णन ने पकड़ी कुलदीप यादव व युजवेंद्र चहल की 'खामी', बताई 'दिली इच्छा'

Updated: 04 November 2018 16:46 IST

इसमें दो राय नहीं कि भले ही शिवरामाकृष्णन  ने कम क्रिकेट खेली हो, लेकिन वह अति प्रतिभाशाली लेग स्पिनर रहे हैं. उनका ज्ञान अच्छा है, जो उनकी कमेंटरी में भी झलकता है. लेकिन अब बीसीसीआई उनकी आवाज सुनता है या नहीं, यह देखने वाली बात होगी

Laxman Sivaramakrishnan finds such fault in Kuldeep Yadav & Yuzvendra Chahal, now seeking wantsthis role
पूर्व लेग स्पिनर और कमेंटेटर शिवरामाकृष्णन

मुंबई:

पूर्व स्पिनर लक्ष्मण शिवरामाकृष्णन अब उस भूमिका में खुद को चाहते हैं, जिसकी तलाश भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) कर रहा है. दरअसल भारतीय टीम मैनेजमेंट ने ही इस नई भूमिका के बारे में बोर्ड ने अनुरोध किया है. और बीसीसीआई अब जुट गया है स्पिन कोच की तलाश में. ऐसे में शिवरामाकृष्मण की ख्वाहिशें भी जाग उठी हैं. 

शिवा ने कहा कि वह अगले साल होने वाले विश्व कप  तक भारतीय स्पिनरों की मदद कर सकते हैं. और अगर बीसीसीआई उन्हें प्रस्ताव देता है, तो वह इन स्पिनरों के खेल में काफी सुधार ला सकते हैं. अपने समय के अति प्रतिभाशाली स्पिनरों में गिने जाने वाले शिवारामाकृष्णन ने कहा कि मैं भारतीय स्पिनरों के लिए कोच/सलाहकार की भूमिका निभाना पसंद करूंगा, लेकिन यह बीसीसीआई के ऊपर निर्भर करता है. उन्होंने यह भी कहा कि भारतीय टीम में शामिल वर्तमान स्पिनर उच्च स्तर पर खेलने के लिए बहुत ही अच्छे हैं, लेकिन इनमें कुछ तकनीकी खामियां हैं. 

यह भी पढ़ें: इस कारण जल्द ही BCCI करेगा स्पिन बॉलिंग कोच की नियुक्ति

शिवा ने कहा कि  कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल में तकनीकी तौर पर खामिया हैं. और मुझे उम्मीद है कि इसमें जल्द ही सुधार किया जाएगा. उन्होंने कहा कि हमारे स्पिनर अच्छे हैं, लेकिन इन्हें और लयबद्ध करने की जरूरत है. और इसके लिए इन्हें तकनीकी रूप से दुरुस्त करना होगा. उन्होंने कहा कि गेंद फेंकने के दौरान कुलदीप यादव के संतुलन में और सुधार की दरकार है. साथ ही, उनकी बांह पूरी तरह नहीं घूम रही है. वहीं युजवेंद्र के बारे में शिवा ने कहा कि उनकी ज्यादातर गेंदें लेग और मिड्ल स्टंप की ओर भागती हैं. इसका मतलब है कि बल्लेबाज उन्हें मिडविकेट की ओर निशाना बना सकता है. इस क्षेत्र में दो ही फील्डर तैनात होते हैं. 

VIDEO: भारत ने विंडीज के खिलाफ सबसे बड़ी जीत दर्ज की.

इसमें दो राय नहीं कि भले ही शिवरामाकृष्णन  ने कम क्रिकेट खेली हो, लेकिन वह अति प्रतिभाशाली लेग स्पिनर रहे हैं. उनका ज्ञान अच्छा है, जो उनकी कमेंटरी में भी झलकता है. लेकिन अब बीसीसीआई उनकी आवाज सुनता है या नहीं, यह देखने वाली बात होगी. 
 

Comments
हाईलाइट्स
  • कुलदीप और युजवेंद्र में तकनीकी तौर पर खामियां-शिवा
  • भारतीय टीम में शामिल स्पिनर उच्च स्तर पर खेलने के लिए बहुत अच्छे
  • फिलहाल कमेंटरी में व्यस्त हैं पूर्व लेग स्पिनर
संबंधित खबरें
Sivaramakrishnan सह‍ित तीन प्‍लेयर्स ने क‍िया राष्ट्रीय चयनकर्ता पद के लिए आवेदन..
Sivaramakrishnan सह‍ित तीन प्‍लेयर्स ने क‍िया राष्ट्रीय चयनकर्ता पद के लिए आवेदन..
शिवरामाकृष्णन ने पकड़ी कुलदीप यादव व युजवेंद्र चहल की खामी, बताई दिली इच्छा
शिवरामाकृष्णन ने पकड़ी कुलदीप यादव व युजवेंद्र चहल की 'खामी', बताई 'दिली इच्छा'
Advertisement