साथी खिलाड़ी से मारपीट मामले में बांग्लादेश के पूर्व तेज गेंदबाज शहादत हुसैन पर 5 साल का बैन

Updated: 20 November 2019 07:55 IST

Shahadat Hossain: बीसीबी की तकनीकी समिति के प्रमुख मिन्हाजुल अबेदिन ने कहा, ‘अतीत के बर्ताव को ध्यान में रखते हुए हमने उसे पांच साल के लिए सजा देने का फैसला किया. इस प्रतिबंध के अंतिम दो साल निलंबित रहेंगे.’शहादत (पर आजीवन प्रतिबंध भी लग सकता था.

Five year ban for Bangla’s Shahadat for assaulting teammate
Shahadat Hossain ने बांग्लादेश के लिए 38 टेस्ट, 51 वनडे और छह टी20 मैच खेले हैं

ढाका:

बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड (BCB) ने राष्ट्रीय टीम के पूर्व तेज गेंदबाज शहादत हुसैन (Shahadat Hossain) को मैच के दौरान टीम के साथी से मारपीट के कारण पांच साल के लिए प्रतिबंधित कर दिया है जिसमें दो साल की सजा निलंबित है. अंपायरों ने शिकायत करते हुए कहा था कि शहादत को रविवार को राष्ट्रीय क्रिकेट लीग (NCL) के मैच के दौरान टीम के साथी को थप्पड़-लात मारते देखा गया था. बोर्ड ने बताया कि राष्ट्रीय महासंघ ने दो साल के प्रतिबंध को निलंबित रखा है लेकिन ‘शारीरिक हमले' का आरोप स्वीकार करने वाले शहादत पर तीन लाख टका (3540 डॉलर) का जुर्माना भी लगाया गया है. बोर्ड के अधिकारी के अनुसार ढाका और खुलना (Dhaka Division vs Khulna Division) के बीच मैच के दौरान गेंद को कैसे चमकाया जाए, इस पर बहस के बाद 33 साल के शहादत ने युवा गेंदबाज अराफात सनी जूनियर (Arafat Sunny Jr) पर हमला कर दिया था.

IND vs BAN 2nd Test: दूसरे टेस्ट से पहले पिंक बॉल की चर्चा, बीसीसीआई ने बयां कीं खासियत

बीसीबी की तकनीकी समिति के प्रमुख मिन्हाजुल अबेदिन ने कहा, ‘अतीत के बर्ताव को ध्यान में रखते हुए हमने उसे पांच साल के लिए सजा देने का फैसला किया. इस प्रतिबंध के अंतिम दो साल निलंबित रहेंगे.'शहादत (Shahadat Hossain) पर आजीवन प्रतिबंध भी लग सकता था. बांग्लादेश की ओर से 38 टेस्ट और 51 एकदिवसीय मैच खेलने वाले शहादत ने 2015 में लगभग दो महीने हिरासत के बिताए थे जब उन पर और उनकी पत्नी पर 11 साल की लड़की को प्रताड़ित करने का आरोप लगा था जिसे उन्होंने घरेलू सहायिका के रूप में रखा था. अदालत में हालांकि उन्हें बरी कर दिया गया. शहादत ने कहा कि टीम के साथी के साथ जो हुआ वह गहमागहमी में हो गया और उन्होंने इनकार किया कि उन्होंने अराफात को थप्पड़ मारा या लात मारी. शहादत ने कहा, ‘मैं सिर्फ उसे धक्का दिया था, मैंने उसे चोट नहीं पहुंचाई. लेकिन मैं सहमत हूं कि यह गलती है. एक टेस्ट खिलाड़ी के रूप में मुझे ऐसा नहीं करना चाहिए था. मैं  इस निर्णय के खिलाफ अपील करूंगा.'

उन्होंने कहा, ‘पांच साल का प्रतिबंध मेरे लिए काफी कड़ा है. मैं छह महीने का प्रतिबंध या कुछ जुर्माना स्वीकार कर लेता. मेरी मां कैंसर से पीड़ित है और इस खबर के बाद उन्होंने खाना-पीना छोड़ दिया है. अगर मैं पांच साल के लिए प्रतिबंधित हो गया तो मेरी आजीविका छिन जाएगी.'शहादत 2018 में भी गलत कारणों से सुर्खियों में आए जब ढाका में उनकी कार को टक्कर मारने पर उन्होंने कथित तौर पर एक रिक्शा चालक को पीटा था.

वीडियो: सौरव गांगुली ने बीसीसीआई का अध्यक्ष पद संभाला



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
Comments
हाईलाइट्स
  • पांच साल में दो साल की सजा निलंबित
  • तीन लाख टके का जुर्माना भी लगाया गया
  • साथी प्लेयर अराफात सनी जूनियर पर किया था हमला
संबंधित खबरें
साथी खिलाड़ी से मारपीट मामले में बांग्लादेश के पूर्व तेज गेंदबाज शहादत हुसैन पर 5 साल का बैन
साथी खिलाड़ी से मारपीट मामले में बांग्लादेश के पूर्व तेज गेंदबाज शहादत हुसैन पर 5 साल का बैन
साथी खिलाड़ी के साथ की मारपीट, बांग्लादेश के इस पूर्व तेज गेंदबाज पर लग सकता है एक साल का बैन..
साथी खिलाड़ी के साथ की मारपीट, बांग्लादेश के इस पूर्व तेज गेंदबाज पर लग सकता है एक साल का बैन..
Advertisement