ईरान के

ईरान के 'ड्रेस कोड' को इस भारतीय खिलाड़ी ने दिखााया ठेंगा, एशियाई चैंपियनशिप से हटीं

29 साल की सौम्या स्वामीनाथन ने  सोशल मीडिया पर लिखी लंबी पोस्ट में कहा कि इरान का कानून मेरे बुनियादी मानवाधिकार, मेरी अभिव्यक्ति की आजादी और मेरे विचारों की आजादी, विवेक और धर्म का सीधा उल्लंखन है. उन्होंने लिखा कि ऐसा जान पड़ता है कि वर्तमान परिस्थितियों के तहत मेरे अपने अधिकारों की रक्षा का एकमात्र रास्ता ईरान न जाना है

Advertisement