Chess: कुछ ऐसे कोनेरू हंपी बन गई वर्ल्ड रेपिड चैंपियन

Chess: कुछ ऐसे कोनेरू हंपी बन गई वर्ल्ड रेपिड चैंपियन

उन्होंने कहा, ‘मैंने पहला गेम गंवा दिया लेकिन दूसरे गेम में वापसी की. यह गेम बहुत जोखिम भरा रहा लेकिन मैंने इसमें जीत हासिल की. अंतिम गेम में मैं बेहतर स्थिति में थी और फिर मैंने आसान जीत हासिल की.' हंपी ने कुल नौ अंक जुटाए जिससे वह टिंगजी और तुर्की की एकेटरिना अटालिक के बराबर पहुंची.

Advertisement