कोच विमल कुमार ने इस मामले में की साइना नेहवाल की जमकर प्रशंसा...

Updated: 27 September 2018 19:47 IST

साइना को अप्रैल 2015 में वर्ल्‍ड रैंकिंग में पहला स्थान दिलाने और वर्ल्‍ड चैम्पियनशिप में रजत पदक जीतने में विमल कुमार की भूमिका काफी अहम रही थी. उन्होंने कहा, ‘सामान्य तौर पर, इस तरह का आकर्षण और रिश्ते युवाओं का ध्यान भटका देते हैं लेकिन साइना ने इससे प्रेरणा लेते हुए अपने करियर में कई उपलब्धियां हासिल कीं.’

India coach Vimal Kumar lauds Saina for remaining focussed on game
साइना को वर्ल्‍ड रैंकिंग में पहला स्थान दिलाने में विमल कुमार की भूमिका काफी अहम रही थी (फाइल फोटो)

बेंगलुरू:

पूर्व राष्ट्रीय बैडमिंटन कोच विमल कुमार ने साइना नेहवाल की इस बात को लेकर सराहना की है कि  उन्होंने (साइना ने) साथी शटलर पारुपल्ली कश्यप के साथ संबंधों का असर अपने खेल पर नहीं पड़ने दिया. गौरतलब है कि हाल में खबर आयी है कि साइना और पारुपल्‍ली कश्‍यप दिसंबर माह में शादी करने वाले हैं. साइना के कोच रह चुके विमल कुमार ने यहां पादुकोण-द्रविड़ सेंटर फॉर स्पोर्ट्स एक्सीलेंस पर कहा, ‘मैं उनके (साइना और कश्यप) रिश्तों के बारे में जानता था. इस बारे में एक अच्छी चीज यह है कि साइना ने इसे अच्छी तरह छुपाकर रखा और अपना ध्‍यान किसी भी तरह से भंग नहीं होने दिया. साइना की प्राथमिकता खेल थी और उसने इसे अपना शत प्रतिशत दिया.’

पारुपल्‍ली कश्‍यप के साथ दिसंबर में विवाह करेंगी बैडमिंटन स्‍टार साइना नेहवाल: रिपोर्ट

साइना 2014 में विमल कुमार के मार्गदर्शन में ट्रेनिंग के लिये हैदराबाद से बेंगलुरू रहने लगी थी लेकिन बाद में पिछले साल वह फिर से पुलेला गोपीचंद से कोचिंग लेने के लिये हैदराबाद लौट गईं.

वीडियो: साइना नेहवाल ने पीएम मोदी को रैकेट भेंट किया

 साइना को अप्रैल 2015 में वर्ल्‍ड रैंकिंग में पहला स्थान दिलाने और वर्ल्‍ड चैम्पियनशिप में रजत पदक जीतने में विमल कुमार की भूमिका काफी अहम रही थी. उन्होंने कहा, ‘सामान्य तौर पर, इस तरह का आकर्षण और रिश्ते युवाओं का ध्यान भटका देते हैं लेकिन साइना ने इससे प्रेरणा लेते हुए अपने करियर में कई उपलब्धियां हासिल कीं.’हाल में साइना ने एशियाई खेलों में कांस्य पदक जीतने के बाद ‘शुक्रिया नोट’ में कश्यप का नाम ट्विटर पर कोच गोपीचंद और अपने फिजियो के साथ टैग किया था. विमल कुमार ने कश्यप को शादी के बाद कोचिंग में आने की सलाह दी जबकि उन्होंने उम्मीद जताई कि साइना को दो साल और खेलना जारी रखना चाहिए.  (इनपुट: एजेंसी)

Comments
हाईलाइट्स
  • कहा-कश्‍यप के साथ संबंधों का असर खेल पर नहीं पड़ने दिया
  • ऐसे मामले ध्‍यान भटका देते हैं पर साइना ने ऐसा नहीं होने दिया
  • साइना की प्राथमिकता खेल थी, इसमें उसने 100 फीसदी दिया
संबंधित खबरें
Badminton: कुछ ऐसे Saina Nehwal डेनमार्क ओपन के पहले राउंड में हार गईं
Badminton: कुछ ऐसे Saina Nehwal डेनमार्क ओपन के पहले राउंड में हार गईं
Korea Open: पुरुष युगल्स वर्ग में दोनों भारतीय जोड़ियां हुई बाहर, Saina Nehwal की उम्मीदें भी खत्म
Korea Open: पुरुष युगल्स वर्ग में दोनों भारतीय जोड़ियां हुई बाहर, Saina Nehwal की उम्मीदें भी खत्म
BADMINTON: कुछ ऐसे रेंकीरेडडी और चिराग शेट्टी की जोड़ी की हो गई चीन ओपन से छुट्टी
BADMINTON: कुछ ऐसे रेंकीरेडडी और चिराग शेट्टी की जोड़ी की हो गई चीन ओपन से छुट्टी
Badminton: पीवी सिंधु चीन ओपन के दूसरे दौर में पहुंचीं, साइना नेहवाल हुईं बाहर
Badminton: पीवी सिंधु चीन ओपन के दूसरे दौर में पहुंचीं, साइना नेहवाल हुईं बाहर
भारतीय बैडमिंटन के भविष्य को लेकर चिंतित हैं राष्ट्रीय कोच पुलेला गोपीचंद, कही यह बड़ी बात
भारतीय बैडमिंटन के भविष्य को लेकर चिंतित हैं राष्ट्रीय कोच पुलेला गोपीचंद, कही यह बड़ी बात
Advertisement