World Cup 2019: पूर्व कप्तान MS धोनी के फैंस ने सचिन तेंदुलकर को किया ट्रोल, जानिए क्या है वजह...

Updated: 25 June 2019 16:56 IST

World Cup 2019: सचिन (Sachin Tendulkar) ने कहा था कि धोनी की पारी ने टीम की रनगति को धीमी कर दिया था. उन्होंने यह भी कहा था कि केदार जाधव (Kedar Jadhav) के साथ धोनी की साझेदारी धीमी थी और उनके पास सकारात्मक इरादे की कमी थी. सचिन की इस टिप्पणी पर धोनी के फैंस अब उन्हें ट्रोल कर रहे हैं.

World Cup 2019: MS Dhoni
World Cup 2019: भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी

नई दिल्ली:

World Cup 2019: वर्ल्ड कप 2019 (World Cup 2019) में अफगानिस्तान के खिलाफ हुए मैच में भारतीय टीम (India Cricket team) के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) की धीमी बल्‍लेबाजी की सोशल मीडिया पर जमकर आलोचना हुई थी. उस मैच में धोनी ने 52 गेंदों पर 28 रन बनाए थे. मैच के दौरान जब भारतीय बल्लेबाज अफगानिस्तान (Afghanistan Cricket team) के गेंदबाजों के सामने असहाय नजर आ रहे थे तब टीम के प्रशंसकों और पूर्व क्रिकेटरों ने धोनी की धीमी रनगति की आलोचना करनी शुरू कर दी थी. धोनी की आलोचना करने वालों में पूर्व कप्तान सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) भी शामिल थे. सचिन ने कहा था कि धोनी की पारी ने टीम की रनगति को धीमी कर दिया था. उन्होंने यह भी कहा था कि केदार जाधव (Kedar Jadhav) के साथ धोनी की साझेदारी धीमी थी और उनके पास सकारात्मक इरादे की कमी थी. सचिन की इस टिप्पणी पर धोनी के फैंस अब उन्हें ट्रोल कर रहे हैं.

 

 

World Cup 2019: वसीम अकरम को उम्मीद, वर्ल्‍डकप के सेमीफाइनल में पहुंचेगी पाक टीम

अफगानिस्तान (IND vs AFG) के खिलाफ हुए मैच में खराब बल्लेबाजी के बावजूद धोनी (MS Dhoni) की खेल को 'पढ़ने' और गेंदबाजों का मार्गदर्शन करने की क्षमता के कारण उन्हें भारतीय क्रिकेट टीम (India Cricket team) का सबसे समझदार खिलाड़ी माना जाता है. धोनी ने अपने चौथे वर्ल्ड कप में 50.18 की औसत से 10,500 से अधिक रन बनाए. उन्होंने नाबाद 183 का सर्वोच्च स्कोर भी बनाया है. इसके साथ ही उन्होंने 10 शतक और 71 अर्धशतक भी अपने नाम दर्ज किए हैं. इसीलिए धोनी के प्रशंसक अपने आइकन के बचाव में उतर आए और सचिन (Sachin Tendulkar) को उनकी टिप्पणी के लिए ट्रोल करने लगे.

BAN vs AFG: 62 रन की जीत के साथ बांग्‍लादेश की उम्‍मीदें बरकरार 

भारतीय टीम (India Cricket team) ने उस मैच में 11 रनों से जीत दर्ज की थी. भारत की ओर से जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) और मोहम्मद शमी (Mohammad Shami) ने शानदार गेंदबाजी करते हुए अफगानिस्तान टीम को 213 रनों पर समेट दिया था. धोनी की पारी के बाद सचिन ने कहा, 'मैं थोड़ा निराश था. यह काफी बेहतर हो सकता था. मैं केदार और धोनी के बीच साझेदारी से भी खुश नहीं था. यह बहुत धीमी गति से आगे बढ़ रही थी. हमने स्पिन गेंदबाजी के 34 ओवरों में बल्लेबाजी की और 119 रन बनाए.' उन्होंने कहा, 'यह सब कुछ सहज था. कोई सकारात्मक मंशा नहीं थी.' तेंदुलकर की इस टिप्पणी के बाद धोनी के प्रशंसकों ने दोनों क्रिकेटरों के बीच कई तुलनाएं की. दिलचस्प बात तो यह है कि कुछ प्रशंसकों ने तो सचिन और धोनी की बायोपिक्स की भी तुलना कर दी.

वीडियो: टीम इंडिया की पाकिस्‍तान पर शानदार जीत

Comments
हाईलाइट्स
  • अफगानिस्तान के खिलाफ मैच में 52 गेंदों पर 28 रन ही बना सके थे धोनी
  • धीमी रनगति के लिए धोनी की गई थी आलोचना
  • तेंदुलकर ने कहा था- मैं थोड़ा निराश था. यह काफी बेहतर हो सकता था
संबंधित खबरें
अब पाकिस्तान पूर्व ऑलराउंडर अब्दुल रज्जाक ने सचिन और विराट को लेकर अलापा
अब पाकिस्तान पूर्व ऑलराउंडर अब्दुल रज्जाक ने सचिन और विराट को लेकर अलापा 'अलग ही राग'
इसलिए सचिन तेंदुलकर और वीवीएस लक्ष्मण ने दी फिर से सीएसी का हिस्सा बनने पर सहमति
इसलिए सचिन तेंदुलकर और वीवीएस लक्ष्मण ने दी फिर से सीएसी का हिस्सा बनने पर सहमति
सचिन तेंदुलकर बोले, पुरुषों के आंसू बहने में शर्म की कोई बात नहीं
सचिन तेंदुलकर बोले, पुरुषों के आंसू बहने में शर्म की कोई बात नहीं
फैन ने पूछा-मौजूदा समय में आउट करने में सबसे मुश्किल बल्लेबाज कौन, Shoaib Akhtar ने दिया यह जवाब..
फैन ने पूछा-मौजूदा समय में आउट करने में सबसे मुश्किल बल्लेबाज कौन, Shoaib Akhtar ने दिया यह जवाब..
क्रिकेटर और अंधविश्वास: कामयाबी के लिए सचिन तेंदुलकर, राहुल द्रविड़ और अनिल कुंबले आजमाते थे ये
क्रिकेटर और अंधविश्वास: कामयाबी के लिए सचिन तेंदुलकर, राहुल द्रविड़ और अनिल कुंबले आजमाते थे ये 'नुस्खे'
Advertisement