World Cup 2019, IND vs ENG: कुछ ऐसे विराट कोहली ने बयां की अपने स्पिनरों की बेबसी

Updated: 01 July 2019 00:14 IST

India vs England: विराट ने कहा कि एक समय मुझे लगा कि इंग्लैंड 360 के आस-पास का स्कोर बनाने जा रहा है. ऐसे में हम उसे 330 के आस-पास रोककर खुश थे. अगर हम बल्ले से और बेहतर करते, तो यहां परिणाम हमारे पक्ष में हो सकता था

World Cup 2019, IND vs ENG: thats How Captain Virat Kohli describes helplessness of his spinners
भारत बनाम इंग्लैंड: विराट कोहली की फाइल फोटो

बर्मिंघम:

इंग्लैंड में जारी वर्ल्ड कप (World Cup 2019) में रविवार को इंग्लैंड (India vs England) के खिलाफ (मैच रिपोर्ट) आखिरकार टीम इंडिया का जीत का सिलसिला टूट ही गया. मुकाबला एक तरफा साबित हुआ और इस मेजबान टीम ने भारत को 31 रन के अंतर से मात दी. हार के बाद भारतीय कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli) ने अपने स्पिनरों की बेबसी को बयां करते हुए कहा कि रनों को रोकना मुश्किल था. इस विश्व कप में सभी टीमें हार चुकी हैं. कोई भी टीम हारना पसंद नहीं करती, लेकिन आपको यह स्वीकार करना होगा कि दूसरी टीम ने हमसे बेहतर खेला. ड्रेसिंग रूप में खिलाड़ियों का मूड समान है और पेशेवेर खिलाड़ी होने के नाते हम जातने हैं कि यह हार हमारे लिए बड़ा झटका है.

यह भी पढ़ें:  क्या रोहित शर्मा अब यह 'बड़ा चैलेंज' तोड़ पाएंगे

विराट बोले कि एक समय मुझे लगा कि इंग्लैंड 360 के आस-पास का स्कोर बनाने जा रहा है. ऐसे में हम उसे 330 के आस-पास रोककर खुश थे. अगर हम बल्ले से और बेहतर करते, तो यहां परिणाम हमारे पक्ष में हो सकता था. विराट ने कहा कि मुझे लगता है कि जब पंत और पांड्या पिच पर थे, तो हमारे पास अच्छा मौका था. लेकिन हम नियमित अंतराल पर विकेट गंवाते रहे और बात ने लक्ष्य का पीछा करने में मदद नहीं की. पर आखिर में श्रेय इंग्लैंड को जाता है. उसने अच्छा प्रदर्शन किया.  आखिर के ओवरों में इंग्लैंड के बॉलरों ने अच्छे एरिया में गेंदबाजी की और रन बनाना मुश्किल काम था. 

यह भी पढ़ें:  कुछ ऐसे विराट कोहली ने सभी कप्तानों की कर दी बोलती बंद

अपने स्पिनरों के खराब प्रदर्शन पर विराट ने कहा कि अगर बल्लेबाज रिवर्स स्वीप से छक्का जड़ रहे हैं, तो आप बतौर स्पिनर ज्यादा कुछ नहीं कर सकते. निश्चित ही, कुलदीप और युजवेंद्र को लाइन को लेकर और ज्यादा होशियारी दिखानी चाहिए थी क्योंकि बाउंड्री छोटी होने के कारण यहां रन रोकना मुश्किल काम था. भारतीय कप्तान ने कहा कि छोटी बाउंड्री को देखते हुए यहां टॉस अहमियत बहुत ज्यादा थी. मेरे ख्याल से यहां 59 मीटर की बाउंड्री थी, जो संयोग से अंतरराष्ट्रीय मुकाबले में सबसे छोटी बाउंड्री है. ऊपर से कोढ़ में खाज जैसा पिच का फ्लैट होना रहा, लेकिन इसके बावजूद हमारे बल्लेबाजों को बेहतर करना चाहिए था क्योंकि पिच फ्लैट थी.

VIDEO:  भारत ने वेस्टइंडीज को 125 रनों के विशाल अंतर से मात दी थी. 

सही मायनों में टीम इंडिया के लिए यह मैच कई सबक लेकर  आया और अच्छे समय पर आया. यहां से टीम इंडिया आगे के मैचों के लिए कई पहलुओं पर काम कर सकती है. 

Comments
हाईलाइट्स
  • बल्लेबाज बेहतर करते, तो हम जीत सकते थे-विराट
  • एक समय लगा कि इंग्लैंड 360 रन बना लेगा
  • इंग्लैंड को काफी पहले रोककर हम खुश थे
संबंधित खबरें
दिग्गज ग्लेन मैक्ग्रा ने बतायी वजह, टीम विराट को ऑस्ट्रेलिया दौरे में क्यों पैदा होंगी परेशानियां
दिग्गज ग्लेन मैक्ग्रा ने बतायी वजह, टीम विराट को ऑस्ट्रेलिया दौरे में क्यों पैदा होंगी परेशानियां
ICC RANKING: विराट कोहली ने आईसीसी रैंकिंग से गंवायी अपनी नंबर-1 पोजीशन
ICC RANKING: विराट कोहली ने आईसीसी रैंकिंग से गंवायी अपनी नंबर-1 पोजीशन
IND vs NZ: इसलिए कप्तान विराट कोहली नहीं चाहते पृथ्वी शॉ की तकनीक पर काम करना
IND vs NZ: इसलिए कप्तान विराट कोहली नहीं चाहते पृथ्वी शॉ की तकनीक पर काम करना
विराट कोहली कर सकते हैं एशियाई टीम का नेतृत्व, लेकिन....यह है टीम
विराट कोहली कर सकते हैं एशियाई टीम का नेतृत्व, लेकिन....यह है टीम
डोनाल्‍ड ट्रंप ने सच‍िन तेंदुलकर के नाम का गलत उच्‍चारण क‍िया तो केव‍िन पीटरसन ने यूं ली चुटकी..
डोनाल्‍ड ट्रंप ने सच‍िन तेंदुलकर के नाम का गलत उच्‍चारण क‍िया तो केव‍िन पीटरसन ने यूं ली चुटकी..
Advertisement