IND vs NZ: सचिन तेंदुलकर और सौरव गांगुली बोले-MS धोनी को 7वें क्रम पर भेजना बड़ी गलती, माही होते तो...

Updated: 11 July 2019 12:34 IST

India vs New Zealand: सौरव गांगुली ने कहा कि बात सिर्फ धोनी की बल्लेबाजी की नहीं बल्कि दूसरे छोर पर युवा बल्लेबाजों पर उनके प्रभाव की भी थी. ऋषभ पंत और पंड्या खराब शॉट खेलकर आउट हुए. भारत को उस समय अनुभव की जरूरत थी.

IND vs NZ: MS Dhoni
MS Dhoni ने न्‍यूजीलैंड के खिलाफ मैच में अर्धशतकीय पारी खेली थी

मैनचेस्‍टर:

India vs New Zealand: वर्ल्‍डकप 2019 (World Cup 2019) के पहले सेमीफाइनल में टीम इंडिया को न्‍यूजीलैंड के हाथों  (India vs New Zealand) मिली शिकस्‍त के बाद परिणाम के विश्‍लेषण का दौर शुरू हो गया है. हर विशेषज्ञ हार के कारणों को लेकर अपनी राय जता रहा है. टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली (Sourav  Ganguly), सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar)और वीवीएस लक्ष्मण (VVS Laxman)का मानना है कि भारत ने सेमीफाइनल मुकाबले में महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni)को सातवें नंबर पर उतारकर भारी गलती की. गौरतलब है कि मंगलवार/बुधवार को हुए सेमीफाइनल मुकाबले में भारतीय टीम 239 रन के स्‍कोर का पीछा कर रही थी. इस मैच में हार्दिक पंड्या और दिनेश कार्तिक को धोनी से पहले भेजा गया जब भारत के चार विकेट 24 रन पर निकल गए थे.

IND vs NZ: रवींद्र जडेजा की बिंदास के बाद बदले संजय मांजरेकर के सुर, कही यह बात..

लक्ष्मण ने कहा,‘धोनी को पंड्या से पहले भेजा जाना चाहिये था. यह भारी तकनीकी चूक थी. धोनी को दिनेश कार्तिक से पहले आना चाहिए था. वर्ष 2011 में वह युवराज सिंह की जगह चौथे नंबर पर आये और वर्ल्‍डकप जिताया.'गांगुली (Sourav  Ganguly) ने कहा कि बात सिर्फ धोनी की बल्लेबाजी की नहीं बल्कि दूसरे छोर पर युवा बल्लेबाजों पर उनके प्रभाव की भी थी. ऋषभ पंत और पंड्या खराब शॉट खेलकर आउट हुए. गांगुली (Sourav  Ganguly) ने कहा,‘भारत को उस समय अनुभव की जरूरत थी. पंत के क्रीज पर रहने के समय धोनी साथ होते तो उसे हवा के विपरीत वह शॉट नहीं खेलने देते. इंग्लैंड में यह काफी अहम है.' उन्होंने कहा ,'धोनी को ऊपर भेजना चाहिये था. आपको उसके शांत स्वभाव की उस समय जरूरत थी. वह रहते तो ऐसे विकेट नहीं गिरते. जडेजा की बल्लेबाजी के समय धोनी थे और दोनों का तालमेल गजब का था. सातवें नंबर पर धोनी को भेजना गलत था.'

 रोहित शर्मा के हाथों बच गए, पर क्या सचिन तेंदुलकर बच पाएंगे डेविड वॉर्नर से

सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने कहा ,‘सवाल यह है कि ऐसे हालात में क्या आपको अनुभव के आधार पर धोनी को ऊपर नहीं भेजना चाहिये था.आखिर में वह लगातार जडेजा से बात करता रहा और हालात उसके नियंत्रण में थे.'उन्होंने कहा ,‘हार्दिक की जगह धोनी को ऊपर भेजना चाहिये था. कार्तिक को पांचवें नंबर पर भेजना समझ से परे था.' गांगुली (Sourav  Ganguly) ने कहा,‘चयनकर्ता पिछले डेढ साल में मध्यक्रम का संयोजन नहीं बना सके.हर बार रोहित और विराट पर निर्भर नहीं रह सकते.'

वीडियो: वर्ल्‍डकप 2019 में टीम इंडिया का सफर खत्‍म

Comments
हाईलाइट्स
  • कहा, टीम इंडिया को उस समय अनुभव की जरूरत थी
  • धोनी होते तो पंत को हवा के विपरीत शॉट नहीं खेलने देते
  • सचिन बोले- हार्दिक की जगह पर धोनी को भेजना था
संबंधित खबरें
ऐसा कहकर Sourav Ganguly ने Virat Kohli और Steve Smith की तुलना पर पल्ला झाड़ लिया
ऐसा कहकर Sourav Ganguly ने Virat Kohli और Steve Smith की तुलना पर पल्ला झाड़ लिया
लोकपाल डीके जैन ने Sourav Ganguly को लेकर BCCI को दिया यह बड़ा निर्देश
लोकपाल डीके जैन ने Sourav Ganguly को लेकर BCCI को दिया यह बड़ा निर्देश
केएल राहुल के विंडीज की खिलाफ नाकामी के बाद गांगुली ने सुझाया नए ओपनर का नाम
केएल राहुल के विंडीज की खिलाफ नाकामी के बाद गांगुली ने सुझाया नए ओपनर का नाम
कप्तान विराट कोहली ने तोड़ा टेस्ट क्रिकेट में महेंद्र सिंह धोनी का यह
कप्तान विराट कोहली ने तोड़ा टेस्ट क्रिकेट में महेंद्र सिंह धोनी का यह 'खास' रिकॉर्ड
सौरव गांगुली ने कहा, इसलिए ऋषभ पंत की तुलना एमस धोनी से नहीं होनी चाहिए
सौरव गांगुली ने कहा, इसलिए ऋषभ पंत की तुलना एमस धोनी से नहीं होनी चाहिए
Advertisement