एशियन गेम्‍स के स्‍वर्ण विजेता बजरंग पूनिया ने प्रो रेसलिंग लीग को इस लिहाज से बताया महत्‍वपूर्ण..

Updated: 09 January 2019 12:22 IST

बजरंग ने पीडब्ल्यूएल की ओर से जारी एक बयान में कहा, "सबसे महंगे खिलाड़ी के रूप में लीग में खेलना मेरे लिए सम्मान की बात है. यह दिखाता है कि पंजाब को मुझ पर कितना भरोसा है और टीम के इस भरोसे को मैं सही साबित करने की पूरी कोशिश करूंगा. हमारी टीम में कई अच्छे खिलाड़ी हैं जिससे मुझे उम्मीद है कि हम खिताब जीतने में सफल हो पाएंगे."

PWL a great platform for young wrestlers, says Bajrang Punia
बजरंग पूनिया 65 किलोग्राम फ्रीस्टाइल वर्ग में दुनिया के नंबर-1 पहलवान हैं (फाइल फोटो)

नई दिल्‍ली:

पिछले साल एशियन गेम्‍स और कॉमनवेल्‍थ गेम्‍स में स्‍वर्ण पदक जीतकर देश को खुशी मनाने का मौका देने वाले स्टार पहलवान बजरंग पूनिया (Bajrang Punia)ने कहा है कि प्रो रेसलिंग लीग (PWL)के  चौथे सीजन से उन्हें खुद को परखने का मौका मिलेगा. 65 किलोग्राम फ्रीस्टाइल वर्ग में दुनिया के नंबर-1 पहलवान बजरंग इस बार 14 से 31 जनवरी तक चलने वाली लीग के चौथे संस्करण में पंजाब रॉयल्स की ओर से खेलते हुए दिखेंगे. पंजाब ने प्लेयर ड्रॉफ्ट में बजरंग को 30 लाख रुपये में खरीदा है. बजरंग ने पीडब्ल्यूएल की ओर से जारी एक बयान में कहा, "सबसे महंगे खिलाड़ी के रूप में लीग में खेलना मेरे लिए सम्मान की बात है. यह दिखाता है कि पंजाब को मुझ पर कितना भरोसा है और टीम के इस भरोसे को मैं सही साबित करने की पूरी कोशिश करूंगा. हमारी टीम में कई अच्छे खिलाड़ी हैं जिससे मुझे उम्मीद है कि हम खिताब जीतने में सफल हो पाएंगे."

FLASHBACK2018: बजरंग और विनेश फोगाट बने भारतीय कुश्ती के नए सितारे

गौरतलब है कि एशियाई और कॉमनवेल्‍थ खेल में स्‍वर्ण जीतने वाले बजरंग का विश्‍व कुश्‍ती चैंपियनशिप में स्वर्ण जीतने का सपना पूरा नहीं हो सका था और उन्हें रजत पदक से संतोष करना पड़ा था. पिछले साल अक्‍टूबर में बजरंग को 65 किलोग्राम वर्ग में जापान के ताकुटो ओटोगुरो से शिकस्त का सामना करना पड़ा था. 24 वर्षीय पूनिया को 19 वर्षीय आटोगुरो ने 16-9 से शिकस्त दी थी. बजरंग (Bajrang Punia) ने कहा कि पीडब्ल्यूएल देश के पहलवानों के लिए खुद को परखने का एक शानदार मंच है. उन्होंने कहा, "सच कहूं तो, यह लीग मेरे लिए दुनिया के सर्वश्रेष्ठ पहलवानों के साथ अभ्यास करने का एक शानदार मंच है. इससे खेल को और अच्छे तरीके से समझने और अपनी तैयारियों को परखने का मौका मिलेगा. इसके अलावा आपको विभिन्न खिलाड़ियों से कुछ नया सीखने को भी मिलता है." बजरंग ने पिछले साल नवंबर में ही 65 किलोग्राम भारवर्ग में विश्व रैंकिंग में शीर्ष स्थान हासिल किया था और वह ऐसा करने वाले भारत के पहले पहलवान बने थे. इस समय उनके नाम 96 अंक हो गए हैं.

विश्‍व कुश्‍ती चैंपियनशिप: बजरंग पूनिया का सपना टूटा, रजत पदक से ही करना पड़ा संतोष

भारतीय पहलवान ने अपनी इस उपलब्धि पर कहा, "रैंकिंग के लिहाज से इस समय मैं जहां भी खड़ा हूं उसका श्रेय मैं अपनी कड़ी मेहनत को देता हूं. यहां तक पहुंचना मेरे लिए कभी आसान नहीं था. इस उपलब्धि का यही मतलब है कि अगर विश्‍व रैंकिंग में मुझे अपनी बादशाहत कायम रखनी है तो मुझे कड़ी से कड़ी मेहनत करनी होगी. मुझे विश्वास है कि मेरी उपलब्धि अन्य पहलवानों को भी कड़ी मेहनत करने के लिए प्रेरित करेगी." (इनपुट: एजेंसी)

वीडियो: मशहूर एथलीट दुती चंद से खास बातचीत

Comments
हाईलाइट्स
  • कहा, इससे मुझे खुद को परखने का मौका मिलेगा
  • चौथे सीजन में पंजाब रॉयल्‍स की ओर से खेलेंगे बजरंग
  • 65 किलो फ्रीस्टाइल वर्ग में दुनिया के नंबर वन पहलवान हैं
संबंधित खबरें
रेसलर बजरंग पूनिया और विनेश फोगाट का नाम खेल रत्‍न के लिए प्रस्‍तावित
रेसलर बजरंग पूनिया और विनेश फोगाट का नाम खेल रत्‍न के लिए प्रस्‍तावित
लोग मुझे अड़ि‍यल कहते हैं लेकिन जब तक जीत रही हूं, इसकी परवाह नहीं करती: विनेश फोगाट
लोग मुझे अड़ि‍यल कहते हैं लेकिन जब तक जीत रही हूं, इसकी परवाह नहीं करती: विनेश फोगाट
जो सचिन तेंदुलकर भी नहीं पा सके, वह सम्मान विनेश फोगाट को मिल गया
जो सचिन तेंदुलकर भी नहीं पा सके, वह सम्मान विनेश फोगाट को मिल गया
एशियन गेम्‍स के स्‍वर्ण विजेता बजरंग पूनिया ने प्रो रेसलिंग लीग को इस लिहाज से बताया महत्‍वपूर्ण..
एशियन गेम्‍स के स्‍वर्ण विजेता बजरंग पूनिया ने प्रो रेसलिंग लीग को इस लिहाज से बताया महत्‍वपूर्ण..
मशहूर पहलवान सुशील कुमार का यह है अगला लक्ष्‍य...
मशहूर पहलवान सुशील कुमार का यह है अगला लक्ष्‍य...
Advertisement