पसंदीदा घोड़े मेडिकोट के बिना भी ओलिंपिक के लिए क्वालीफाई कर सकता हूं: फवाद मिर्जा

Updated: 28 August 2019 17:59 IST

Fawad Mirza: फवाद मिर्जा1982 के बाद एशियाई खेलों की घुड़सवारी प्रतियोगिता में जकार्ता में व्यक्तिगत पदक जीतने वाले पहले भारतीय बने थे. इसके साथ ही उन्होंने भारतीय टीम को दूसरे स्थान के साथ रजत पदक दिलाने में भी अहम भूमिका निभाई थी.

Fawad Mirza Is hopeful for olympic qualification despite injury to his favorite horse
Fawad Mirza ने एशियन गेम्स की घुड़सवारी इवेंट में भारत के लिए रजत पदक जीता था

नई दिल्ली :

फवाद मिर्जा ने इंडोनेशिया में हुए एशियन गेम्स की घुड़सवारी (Equestrian) इवेंट में भारत के लिए रजत पदक जीतकर सबका ध्यान आकर्षित किया था. जापान के टोक्यो में होने वाले ओलिंपिक खेलों (Tokyo Olympics 2020) के लिए क्वालीफाई करने की फवाद (Fawad Mirza)की उम्मीदों को उनके पसंदीदा घोड़े के चोटिल होने से झटका लगा है हालांकि फवाद मिर्जा को भरोसा है कि वह ओलिंपिक की घुड़सवारी प्रतियोगिता के लिए क्वालीफाई (Olympic qualification in equestrian)करने में कामयाब रहेंगे.

इलेक्ट्रॉनिक गैजेट्स रीसाइकिल कर जापान ने बनाए टोक्यो ओलिंपिक के पदक

फवाद मिर्जा (Fawad Mirza)1982 के बाद एशियाई खेलों की घुड़सवारी प्रतियोगिता में जकार्ता में व्यक्तिगत पदक जीतने वाले पहले भारतीय बने थे. इसके साथ ही उन्होंने भारतीय टीम को दूसरे स्थान के साथ रजत पदक दिलाने में भी अहम भूमिका निभाई थी. फवाद की नजरें अब टोक्यो खेलों के लिए क्वालीफाई करने पर टिकी हैं लेकिन उन्हें पूरे साल अपने पसंदीदा घोड़े सेगनूर मेडिकोट की सेवाएं नहीं मिलेंगी. अर्जुन पुरस्कार विजेता मिर्जा ने बताया, ‘दुर्भाग्य से एशियाई खेलों में मुझे दो पदक दिलाने में मदद करने वाला मेरा पसंदीदा घोड़ा सेगनूर मेडिकोट इस साल चोटिल हो गया. इस कारण मेरा घोड़ा पूरे सत्र के लिए बाहर हो गया है जो मेरे लिए बड़ा झटका है.'

भारत के इस स्टार घुड़सवार ने कहा, ‘मैंने काफी उतार-चढ़ाव का सामना किया है.  इस घोड़े को गंवाना बड़ा झटका था. हमारा खेल काफी कड़ा है और जब आप अच्छे घोड़े को गंवा देते हो तो यह और मुश्किल हो जाता है. मेरे पास हालांकि दो युवा घोड़े हैं जो क्वालीफाई कराने में सक्षम हैं.' मिर्जा (Fawad Mirza) ने कहा, ‘नए घोड़ों के साथ मुझे ओलिंपिक के लिए क्वालीफाई करने की उम्मीद है लेकिन उनके साथ यह आसान नहीं होगा.'

वीडियो: पीएम नरेंद्र मोदी से मिलीं गोल्डन गर्ल पीवी सिंधु



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
Comments
हाईलाइट्स
  • एशियन गेम्स में फवाद ने जीता था सिल्वर मेडल
  • उनका घोड़ा सेगनूर मेडिकोट हो गया चोटिल
  • अब टोक्यो ओलिपिंक पर टिकी हैं निगाहें
संबंधित खबरें
अनूठा होगा Tokyo Olympics,
अनूठा होगा Tokyo Olympics, 'फ्लाइंग कार' पर सवार एथलीट जलाएगा मशाल, रोबोट होंगे टूरिस्ट गाइड..
NBA: मुंबई में किंग्स-पेसर्स के मैच को लेकर जबर्दस्त उत्साह, 85 हजार में बिका सबसे महंगा टिकट
NBA: मुंबई में किंग्स-पेसर्स के मैच को लेकर जबर्दस्त उत्साह, 85 हजार में बिका सबसे महंगा टिकट
Pro Kabaddi League: यू-मुंबा ने गुजरात फॉर्च्यूनजाइंट्स को दी मात, बंगाल वारियर्स भी जीती
Pro Kabaddi League: यू-मुंबा ने गुजरात फॉर्च्यूनजाइंट्स को दी मात, बंगाल वारियर्स भी जीती
प्रतिष्ठित पद्म पुरस्कारों के लिए मनिका बत्रा सहित 9 खिलाड़ियों के नाम की सिफारिश
प्रतिष्ठित पद्म पुरस्कारों के लिए मनिका बत्रा सहित 9 खिलाड़ियों के नाम की सिफारिश
पसंदीदा घोड़े मेडिकोट के बिना भी ओलिंपिक के लिए क्वालीफाई कर सकता हूं:  फवाद मिर्जा
पसंदीदा घोड़े मेडिकोट के बिना भी ओलिंपिक के लिए क्वालीफाई कर सकता हूं: फवाद मिर्जा
Advertisement