Asian Games 2018: छठे दिन भारत को दो स्‍वर्ण, हॉकी में भारत ने जापान को दी 8-0 से मात

Updated: 24 August 2018 22:26 IST

भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने विजय अभियान जारी रखते हुए शुक्रवाक को जापान को 8-0 से हराया. यह भारत की लगातार तीसरी जीत है. ग्रुप-ए के अपने तीसरे मुकाबले में मिली इस एकतरफा जीत के साथ मौजूदा  चैंपियन भारतीय टीम टूर्नामेंट में अपने गोलों की संख्या को 51 तक लेकर चली गई है. भारत के लिए मंदीप सिंह और रुपिंदर पाल सिंह ने दो-दो गोल किए जबकि एसवी सुनील, आकाशदीप, दलप्रीत और विवेक सागर ने एक-एक गोल किया

Asian Games 2018 Day 6, Live updates jakarta Indonesia 24th August
Asian Games 2018: टेनिस के डबल्‍स वर्ग में रोहन बोपन्‍ना और दिविज शरन ने स्‍वर्ण पदक जीता

जकार्ता:

एशियन गेम्‍स 2018 में भारत के लिए शुक्रवार का छठा दिन अच्छा रहा. और इस दिन भारत ने अपने पदकों की संख्या में सात और पदकों का इजाफा करते हुए कुल पदकों की संख्या को 25 तक पहुंचा दिया. शुक्रवार को भारत ने रोइंग और टेनिस के पुरुष डबल्स के रूप में दो स्वर्ण पदक जीते. टेनिस के पुरुष डबल्‍स मुकाबले में रोहन बोपन्‍ना और दिविज शरन की जोड़ी ने कजाकिस्‍तान के अलेक्‍जेंडर बबलिक और डेनिस येवसेयेव को 6-3, 6-4 से पराजित किया. भारत का एशियन गेम्‍स में यह अब तक का छठा स्‍वर्ण है.

इसके अलावा टेनिस में प्रजनेश गुणास्वेरन दुनिया के 75वें नंबर के खिलाड़ी इस्टोमिन से हार गए और उन्हें कांस्य से संतोष करना पड़ा.इससे पहले, रोइंग इवेंट में शुक्रवार को भारत ने एक स्‍वर्ण सहित तीन पदक जीतकर अच्‍छी शुरुआत की थी. रोइंग की क्‍वाड्रुपल स्‍कल्‍स इवेंट में स्‍वर्ण सिंह, दत्‍तू भोकानल, ओमप्रकाश और सुखमीत सिंह ने देश को स्‍वर्ण पदक का तोहफा दिया. भारत की ओर से आज पहला कांस्‍य रोइंग की लाइटवेट सिंगल्‍स स्‍कल्‍स इवेंट में दुष्‍यंत चौहान ने हासिल किया.

इसके बाद, रोइंग के ही डबल्‍स स्‍कल्‍स इवेंट में भारत के रोहित कुमार और भगवान सिंह ने देश को कांस्‍य पदक दिलाया. शूटिंग में 10 मीटर एयर पिस्‍टल इवेंट में भारत की हीना सिद्धू ने कांस्‍य पदक जीता. कबड्डी के महिला वर्ग के फाइनल में भारत को ईरान के हाथों 24-27 से हार का सामना करना पड़ा है. इस हार के साथ महिला टीम को रजत पदक से ही संतोष करना पड़ा. इससे पहले, पुरुष वर्ग के सेमीफाइनल में भी भारतीय टीम, ईरान से हारकर कांस्‍य पदक ही हासिल कर पाई थी. पुरुष वर्ग में ईरान और दक्षिण कोरिया की टीम ने फाइनल में स्‍थान बनाया है.

स्‍क्‍वॉश के महिला वर्ग के मुकाबले में भारत की दीपिका पल्‍लीकल ने जापान की मिसाकी कोकायाशी को हराकर सेमीफाइनल में स्‍थान बना लिया है. इस जीत के साथ उन्‍होंने एक पदक जीतना सुनिश्चित कर लिया है, तो जोशना चिनप्पा ने भी अंतिम चार में प्रवेश कर कांस्य सुनिश्चित कर दिया है. स्‍क्‍वॉश के पुरुष वर्ग में भारत के सौरव घोषाल भी हरिंदर पाल सिंह संधू को हराकर सेमीफाइनल से पहुंच गए हैं. उनका कोई एक पदक जीतना सुनिश्चित हो गया है. बैडमिंटन में अश्विनी पोनप्पा और एन.सिक्की रेड्डी महिला युगल स्पर्धा के क्वार्टर फाइनल में प्रवेश कर लिया, लेकिन पुरुष वर्ग में भारत को बड़े झटके लगे हैं. किदांबी श्रीकांत और एच एस प्रणॉय पहले ही राउंड में हारकर बाहर हो गए हैं. वहीं, मुक्केबाजी में मनोज कुमार ने 69 किग्रा भार वर्ग के क्वार्टरफाइनल में जगह बना ली है. हालांकि, गौरव सोलंकी 52 किग्रा भार वर्ग में पहले ही राउंड में हारकर बाहर हो गए हैं. पुरुष हॉकी में पिछले मैचों में इंडोनिशया और हांगकांग को रौंदने वाली भारतीय टीम ने जापान को 8-0 से हरा दिया.अभी तक भारत के कुल 25 पदक हो गए हैं.  (पदक तालिका)

रोइंग ने भारत ने दो कांस्‍य भी जीते
भारत के दुष्यंत ने एशियन गेम्‍स के छठे दिन शुक्रवार को भारत की झोली में कांस्‍य पदक डालकर दिन की अच्छी शुरुआत की. दुष्यंत ने नौकायन में पुरुषों की लाइटवेट एकल स्कल्स स्पर्धा के फाइनल में तीसरा स्थान हासिल कर यह पदक जीता. फाइनल में दुष्यंत ने इस स्पर्धा को समाप्त करने में 7 मिनट और 18.76 सेकेंड का समय लगाते हुए कांस्य पर निशाना साधा. दुष्यंत ने 2014 में भी एशियाई खेलों में इसी स्पर्धा में भारत को कांस्य पदक दिलाया था. हालांकि, इस बार उनका समय पिछले एशियाई खेलों से बेहतर है. उन्होंने इंचियोन में 2014 में हुए एशियाई खेलों में इस स्पर्धा को 7 मिनट और 26.27 सेकेंड में पूरा किया था. इस स्पर्धा का स्वर्ण पदक दक्षिण कोरिया के खिलाड़ी ह्यूनसु पार्क ने जीता. उन्होंने 7 मिनट और 12.86 सेकेंड का समय लिया. इसके अलावा, हांगकांग के चुन हिन चियु ने 7 मिनट और 14.16 सेकेंड का समय लेकर रजत पदक पर कब्जा जमाया. रोइंग के डबल्‍स स्‍कल्‍स इवेंट में भारत के रोहित कुमार और भगवान सिंह ने देश को कांस्‍य पदक दिलाया है. रोइंग में भारत का यह दिन का दूसरा पदक रहा.

शूटिंग में मनु ने किया निराश, हीना को कांस्‍य
शूटिंग में 10 मीटर एयर पिस्‍टल इवेंट में भारत की हीना सिद्धू ने कांस्‍य पदक जीता. भारतीय महिला निशानेबाज हीना सिद्धू और मनु भाकर ने अच्छा प्रदर्शन कर शुक्रवार को महिलाओं की 10 मीटर एयर पिस्टल स्पर्धा के फाइनल में प्रवेश किया था. मनु को तो निराशा हाथ लगी लेकिन हीना ने कांस्‍य जीतने में सफलता हासिल की.भारतीय पुरुष निशानेबाज हरिंदर सिंह और अमित कुमार को शुक्रवार को पुरुषों की 300 मीटर स्टैंडर्ड राइफल स्पर्धा के फाइनल में निराशा हाथ लगी. इस स्पर्धा के फाइनल में हरिंदर को चौथा और अमित को पांचवां स्थान हासिल हुआ.

हरिंदर ने कुल 560 अंक हासिल किए. वह कांस्य पदक हासिल करने से केवल तीन अंकों के चूक गए. इस स्पर्धा का कांस्य पदक दक्षिण कोरिया के वोंग्यू ली को हासिल हुआ. अमित ने कुल 559 अंक हासिल किए. वह हरिंदर से एक अंक पीछे रहे. इस स्पर्धा का स्वर्ण पदक दक्षिण कोरिया के निशानेबाज योंगजेओन चोई को हासिल हुआ. उन्होंने कुल 569 अंक हासिल किए.सऊदी अरब के हुसैन अलहार्बी केवल एक अंक से स्वर्ण पदक से चूक गए. उन्होंने 568 अंक हासिल कर रजत पदक जीता.

हॉकी

भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने विजय अभियान जारी रखते हुए शुक्रवाक को जापान को 8-0 से हराया. यह भारत की लगातार तीसरी जीत है. ग्रुप-ए के अपने तीसरे मुकाबले में मिली इस एकतरफा जीत के साथ मौजूदा  चैंपियन भारतीय टीम टूर्नामेंट में अपने गोलों की संख्या को 51 तक लेकर चली गई है. भारत के लिए मंदीप सिंह और रुपिंदर पाल सिंह ने दो-दो गोल किए जबकि एसवी सुनील, आकाशदीप, दलप्रीत और विवेक सागर ने एक-एक गोल किया. जापान के खिलाफ भारत की शुरुआत शानदार रही और टीम ने आक्रामक खेल दिखाते हुए जापान पर दबाव बनाया. सातवें मिनट में भारत के लिए पहला गोल फारवर्ड खिलाड़ी सुनील ने किया. इसके दो मिनट बाद, जापान के खिलाड़ी को गोल करने का मौका मिला लेकिन गोलकीपर पी.आर श्रीजेश ने शानदार बचाव करते हुए भारत की बढ़त को बनाए रखा. 

पहला क्वार्टर समाप्त होने से पहले 12वें मिनट में दलप्रीत सिंह ने भारत की बढ़त को दोगुना कर दिया। दूसरे क्वार्टर की शुरुआत होते ही 18 मिनट में पेनाल्टी कॉर्नर के माध्यम से रुपिंदर ने भारत के लिए तीसरा गोल दागा. भारत ने दूसरे हाफ में भी अपने दमदार प्रदर्शन को जारी रखा और कुल पांच गोल दागे। मंदीप सिंह ने 32वें और 57वें मिनट में गोल किए जबकि रुपिंदर ने पेनाल्टी स्ट्रोक के जरिए 38वें मिनट में मैच का अपना दूसरा गोल दागा. इनके अलावा, आकाशदीप ने 46वें और विवेक सागर ने 47वें मिनट में गोल दागे. भारत ने इससे पहले मैच में इंडोनेशिया को 17-0 से और फिर दूसरे मैच में हांगकांग को 26-0 से हराया था. भारत का अगला मुकाबला रविवार को दक्षिण कोरिया से होगा.

मुक्केबाजी

मनोज कुमार ने 18वें एशियाई खेलों के छठे दिन शुक्रवार को 69 किलोग्राम भारवर्ग स्पर्धा प्री क्वार्टर फाइनल में जगह बना ली है. मनोज ने पहले दौर के मैच में भूटान के संजय वांगदी को 5-0 से मात देकर अगले दौर में कदम रखा. मनोज के पक्ष में सभी रेफरियों ने सर्वसम्मति से फैसला लिया. मनोज शुरू से आक्रामक थे और बेहद तेज खेल खेल रहे थे. संजय ने हालांकि घैर्य रखा और सही समय पर पंच मारने का प्रयास किए। कुछ मौकों पर वह सफल भी रहे. दूसरे दौर में भी आलम यही था कि मनोज अपने प्रतिद्वंद्वी पर हावी रहे। तीसरे दौर में संजय ने कोशिश की लेकिन लेकिन मनोज ने सही डिफेंस से उनके पंचों को जाया कर दिया. मुक्केबाजी में ही इसी साल राष्ट्रमंडल खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाले भारत के पुरुष मुक्केबाज गौरव सोलंकी 52 किलोग्राम भारवर्ग स्पर्धा के पहले ही दौर में बाहर हो गए हैं. गौरव को पहले दौर में जापान के रयोमेई तानाका ने 5-0 से मात देकर अंतिम-16 में प्रवेश किया.

टेनिस

गुणास्वरेन प्रजनेश छठे दिन पुरुष एकल स्पर्धा का कांस्य पदक जीतने में सफल रहे हैं.उनके पास हालांकि रजत या फिर स्वर्ण जीतने का भी मौका था, लेकिन उज्बेकिस्तान के डेनिस इस्टोमिन ने सेमीफाइनल में सीधे सेटो में प्रजनेश को मात देकर कांस्य पदक तक रोक दिया. इस्टोमिन ने प्रजनेश को एक घंटे 36 मिनट तक चले मैच में 6-2, 6-2 से मात देकर फाइनल में प्रवेश किया.

इस्टोमिन ने इस मैच में कुल छह ऐस लगाए जबकि प्रजनेश ने चार ऐस लगाईं. इस्टोमिन ने 17 अनफोसर्ड एरर कीं जबकि भारतीय खिलाड़ी ने 24 अनफोर्सड एरर की. फाइनल में इस्टोमिन का सामना कोरिया के डुकची ली और यिबिंग वु के बीच होने वाले दूसरे सेमीफाइनल के विजेता से होगा.

स्कवॉश: दीपिका और जोशना दोनों अंतिम चार में

भारत की स्क्वॉश खिलाड़ी जोशना चिनप्पा ने महिला एकल वर्ग के समीफाइनल में जगह बना ली है. चिनप्पा ने शुक्रवार को क्वार्टर फाइनल मुकाबले में हांगकांग की चान हो लिंग को 3-1 से शिकस्त दी. इस जीत के साथ उन्होंने भारत के लिए कम से कम कांस्य पदक पक्का कर लिया है. सेमीफाइनल में चिनप्पा का मुकाबला मलेशिया की सिवासंगारी सुब्रमण्यम से होगा. इससे पहले, दीपिका पल्लीकल ने भी अपना मुकाबला जीतकर सेमीफाइनल में जगह बनाई थी, चिनप्पा ने गुरुवार को हुए अंतिम-16 के मैच में फीलिपिंस की जेमयका अरिबाडो को 3-0 से हराया था।

जिमनास्टिक में दीपा ने किया निराश, 5वें स्‍थान पर रहीं
भारत की स्टार महिला जिमनास्‍टदीपा कर्माकर शुक्रवार को महिला वर्ग की बैलेंस बीम इवेंट में पांचवें स्थान पर रहीं. दीपा ने 12.500 का स्कोर किया. वह एक समय कांस्य की दौड़ में थीं, लेकिन चीन की जिन झांग और उत्तरी कोरिया की सु जोंग किम ने शानदार प्रदर्शन कर दीपा से पदक जीतने का मौका का छीन लिया. जोंग ने 13.400 का स्कोर किया और रजत पदक अपने नाम करने में सफल रहीं,  वहीं झांग ने 13.325 का स्कोर करते हुए कांस्य पर कब्जा जमाया। स्पर्धा का स्वर्ण चीन यिले चेन के नाम रहा जिन्होंने 14.600 का स्कोर किया. चौथे स्थान पर जापान की शिहो नाकाजी रहीं। नाकाजी ने 12.600 का स्कोर किया.

बैडमिंटन : श्रीकांत व एच एस प्रणॉय की पहले ही दौर में छुट्टी

भारतीय बैडमिटन खिलाड़ी किदांबी श्रीकांत को यहां जारी 18वें एशियाई खेलों में छठे दिन शुक्रवार को पुरुष एकल वर्ग के अपने पहले मैच में ही हारकर बाहर होना पड़ा. हांगकांग के खिलाड़ी विंग की विंसेंट ने श्रीकांत को अंतिम-32 दौर में मात देकर बाहर कर दिया. विंसेंट ने 40 मिनट तक चले मुकाबले में भारतीय खिलाड़ी श्रीकांत को सीधे गेमों में 23-21, 21-19 से मात दी. पहले गेम में श्रीकांत ने मैच की अच्छी शुरुआत की थी लेकिन विंग की विंसेंट ने भारतीय खिलाड़ी को अच्छी टक्कर देते हुए स्कोर 5-5 से बराबर कर दिया. यहां से दोनों के बीत बराबरी का मुकाबला देखा गया. दोनों 21-21 से बराबरी पर पहुंचे और यहां पर हांगकांग के खिलाड़ी ने दो अंक लेने के साथ ही पहला गेम 23-21 से जीत लिया. दूसरे गेम में भी दोनों खिलाड़ियों के बीच बराबरी की टक्कर देखी गई, लेकिन हांगकांग के खिलाड़ी विंसेंट ने श्रीकांत पर दबाव बनाना जारी रखा हुआ था और ऐसे में उन्होंने 10-6 की बढ़त भी ली. श्रीकांत ने विसेंट की गलतियों का फायदा उठाते हुए 18-18 से स्कोर बराबर किया. यहां हांगकांग के खिलाड़ी ने संभलते हुए तीन अंक लिए और श्रीकांत को दूसरे गेम में भी 21-19 से हराकर बाहर कर दिया. 

सिंगल्स वर्ग के अन्य मैच में एच एस प्रणॉय को अपने पहले मैच में ही हारकर बाहर होना पड़ा. थाईलैंड के वांगाकोरेन कांटापोन ने प्रणॉय को राउंड-32 दौर के मुकाबले में 21-12, 15-21, 21-15 से मात देकर प्री-क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया. भारतीय खिलाड़ी ने 18 मिनट में पहला गेम 12-21 से गंवाने के बाद दूसरे गेम में शानदार वापसी की. उन्होंने दूसरा गेम 20 मिनट में 21-15 से अपने नाम किया और मुकाबले में बराबरी हासिल कर ली. तीसरा और निर्णायक गेम दोनों खिलाड़ियों के लिए काफी संघर्षपूर्ण रहा जिसमें थाईलैंड खिलाड़ी ने बाजी मारी। कांटापोन ने तीसरे गेम की शुरुआत 8-7 की बढ़त के साथ की। लेकिन प्रणॉय ने 8-8 से बराबरी हासिल कर ली. कांटापोन ने इसके बाद 10-8 की बढ़त बनाई और फिर 18-14 की बढ़त लेकर प्रणॉय को बैकफुट पर ढकेल दिया। प्रणॉय इसके बाद लगातार लगती करते गए और कांटापोन ने 23 मिनट में 21-15 से गेम और मैच जीतकर अगले दौर में कदम रख दिया. प्रणॉय की हार के साथ ही पुरुष एकल में भारतीय चुनौती समाप्त हो गई. प्रणॉय से पहले किदांबी श्रीकांत को पुरुष एकल वर्ग के अपने पहले मैच में ही हारकर बाहर होना पड़ा। 

 महिला वर्ग की डबल्स कैटेगिरी में अश्विनी पोनप्पा और एन.सिक्की रेड्डी की भारतीय महिला जोड़ी ने  अच्छी शुरूआत करते हुए बैडमिंटन में महिला युगल स्पर्धा के क्वार्टर फाइनल में प्रवेश कर लिया है. अश्विनी और रेड्डी की जोड़ी ने अंतिम-16 दौर में मे क्वान चोव और मेंग यिन ली की मलेशियाई जोड़ी को 21-17, 16-21, 21-19 से मात दी. भारतीय जोड़ी ने इस स्पर्धा में चोव और ली की जोड़ी के खिलाफ पहला सेट 19 मिनट में 21-17 से हराया। हालांकि भारतीय खिलाड़ी को दूसरे में 23 मिनट में 16-21 से मात खानी पड़ी. लेकिन अश्विनी-रेड्डी की जोड़ी ने 26 मिनट में तीसरा सेट 21-19 से जीतकर क्वार्टर फाइनल में जगह बना

आर्चरी में कंपाउंड मिक्‍स्‍ड इवेंट में भारत अंतिम आठ में
भारतीय तीरंदाजी (आर्चरी) टीम ने शुक्रवार को कंपाउंड मिश्रित टीम स्पर्धा के क्वार्टर फाइनल में जगह बना ली है. भारतीय टीम ने प्री-क्वार्टर फाइनल में इराक को 155-147 के स्कोर से मात देकर अंतिम-8 में प्रवेश किया.इस स्पर्धा के पहले सेट में भारत ने 40-36 से जीत हासिल की. दूसरे सेट में भारतीय टीम एक अंक से जीती. इराक के खिलाफ उसका स्कोर 37-36 था. तीसरे सेट में भी भारतीय टीम ने एक अंक 39-38 से जीत हासिल की और चौथे सेट में उसने इराक को 39-37 से हराकर क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया. उधर, तीरंदाजी (आर्चरी) की रिकर्व मिश्रित टीम स्पर्धा में भारत को निराशा हाथ लगी. भारतीय टीम को प्री-क्वार्टर फाइनल में मंगोलिया के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा. मंगोलिया की टीम ने भारत को 5-4 से मात देकर इस स्पर्धा से बाहर कर दिया. इस स्पर्धा में भारतीय टीम ने अपनी प्रतिद्वंद्वी टीम को अच्छी टक्कर दी थी. पहले सेट को मंगोलिया ने 2-0 से अपने नाम किया. ऐसे में भारतीय टीम ने अच्छी वापसी करते हुए दूसरे और तीसरे सेट में 2-0 से जीत हासिल की. चौथे सेट में मंगोलिया ने किसी तरह संघर्ष कर भारत को 2-0 से हराया. ऐसे में दोनों टीमें बराबरी पर थी. शूट-ऑफ में भारतीय टीम दबाव में आ गई और मंगोलिया के खिलाफ उसे हार का सामना करना पड़ा.

वेटलिफ्टिंग के 63 किग्रा में राखी क्‍वालिफाई नहीं कर पाईं
भारतीय महिला भारोत्तोलक राखी हलदर भारोत्तोलक स्पर्धा के 63 किग्रा भार वर्ग में क्वालिफाई करने से चूक गईं. 25 साल की राखी ने शुक्रवार कोपहले दो प्रयासों में स्नैच में 93 किलोग्राम भार उठाने की कोशिश की, लेकिन सफल नहीं हो सकीं. वह तीसरे प्रयास में भी नाकाम नहीं. राखी के स्नैच राउंड में कोई स्कोर नहीं होने के चलते पदक जीतने की भारत की उम्मीदें भी खत्म हो गई.

VIDEO: युवा एथलीट हिमा दास पर भी खेलप्रेमियों की नजरें  लगी हुई हैं. 

तैराकी में अद्वैत और संदीप सेजवाल फाइनल में पहुंचे
भारतीय पुरुष तैराक अद्वैत पागे ने शुक्रवार को तैराकी में पुरुषों की 1500 मीटर फ्रीस्टाइल स्पर्धा के फाइनल में प्रवेश कर लिया .अद्वैत ने फाइनल के लिए जारी सूची में पहला स्थान हासिल किया. इस स्पर्धा के हीट-1 में हिस्सा लेने वाले अद्वैत ने कुल 15 मिनट और 29.96 सेकेंड का समय लेते हुए पहला स्थान हासिल किया. गुरुग्राम के 16 वर्षीय निवासी अद्वेत पहली बार एशियाई खेलों में हिस्सा ले रहे हैं। ऐसे में इस स्पर्धा की फाइनल सूची में पहला स्थान हासिल करना उनके लिए किसी उपलब्धि से कम नहीं है. भारतीय तैराक संदीप सेजवाल ने भी पुरुषों की 50 मीटर ब्रेस्टस्ट्रोक स्पर्धा के फाइनल में प्रवेश कर लिया. संदीप ने फाइनल में छठा स्थान हासिल किया. इस स्पर्धा के हीट-1 में संदीप ने 27.95 सेकेंड का समय लेकर पहला स्थान हासिल किया और फाइनल स्पर्धा में क्वालीफाई किया.

Comments
हाईलाइट्स
  • क्‍वाड्रुपल स्‍कल्‍स में सवर्ण, दत्‍तू, ओमप्रकाश और सुखमीत को स्‍वर्ण
  • जोशना चिनप्पा और दीपिका पल्लीकल दोनों अंतिम चार में पहुंचीं
  • जापान के खिलाफ पुरुष हॉकी में मुकाबला जारी
संबंधित खबरें
ध्‍वजवाहक होने के नाते एशियन गेम्‍स में मुझ पर पदक जीतने का ज्‍यादा दबाव था: नीरज चोपड़ा
ध्‍वजवाहक होने के नाते एशियन गेम्‍स में मुझ पर पदक जीतने का ज्‍यादा दबाव था: नीरज चोपड़ा
इस कारण एशियन गेम्स पदक विजेता दिव्या काकरान ने अरविंद केजरीवाल को सुनाई खरी-खरी
'इस कारण' एशियन गेम्स पदक विजेता दिव्या काकरान ने अरविंद केजरीवाल को सुनाई खरी-खरी
Asian Games 2018: स्‍वप्‍ना बर्मन बोली, कोच सर ने कहा था-अपने ऊपर भरोसा रख, तुम पदक जीतोगी
Asian Games 2018: स्‍वप्‍ना बर्मन बोली, 'कोच सर ने कहा था-अपने ऊपर भरोसा रख, तुम पदक जीतोगी'
Asian Games: बॉक्‍सर विजेंदर सिंह की मांग, स्‍वर्ण विजेता स्‍वप्‍ना की इनामी राशि बढ़ाए बंगाल सरकार
Asian Games: बॉक्‍सर विजेंदर सिंह की मांग, 'स्‍वर्ण विजेता स्‍वप्‍ना की इनामी राशि बढ़ाए बंगाल सरकार'
Asian Games 2018: यह भारतीय गायक समापन समारोह में इंडोनेशिया में छा गया
Asian Games 2018: 'यह भारतीय गायक' समापन समारोह में इंडोनेशिया में छा गया
Advertisement