FIFA WORLD CUP 2018: इंग्‍लैंड के हैरी केन को 'गोल्‍डन बूट', टूर्नामेंट में सर्वाधिक 6 गोल दागे

Updated: 15 July 2018 23:12 IST

फीफा वर्ल्‍डकप 2018 में बेल्जियम की टीम टूर्नामेंट में तीसरे और इंग्‍लैंड की टीम चौथे स्‍थान पर रही. इंग्‍लैंड के लिए सांत्‍वना देने वाली बात केवल यही रही कि उसके कप्‍तान हैरी केन टूर्नामेंट में सबसे ज्‍यादा गोल करने वाले खिलाड़ी रहे. उन्‍होंने 6 गोल के साथ गोल्‍डन बूट हासिल किया. हैरी केन ने टूर्नामेंट में सर्वाधिक 6 गोल दागे.

FIFA WORLD CUP 2018: England captain Harry Kane won Golden Boot award
इंग्‍लैंड के हैरी केन ने फीफा वर्ल्‍डकप 2018 में सर्वाधिक 6 गोल दागे (फाइल फोटो)

मॉस्‍को:

फ्रांस की टीम बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए फीफा वर्ल्‍डकप 2018 की चैंपियन बन गई है. फ्रांस टीम ने गोलों की बरसात करते हुए खिताबी मुकाबले में क्रोए‍शिया को 4-1 से पराजित किया. फ्रांसीसी टीम की इस जीत में क्रोएशिया के एक आत्‍मघाती गोल का भी योगदान रहा. यह आत्‍मघाती गोल क्रोएिशया के मांडजुकिच के नाम पर रहा. क्रोएशिया के इस आत्‍मघाती गोल की मदद से फ्रांस ने 1-0 की बढ़त हासिल की थी. बाद में फ्रांस टीम के ग्रीजमैन ने 38वें, पोग्‍बा ने 59वें और एमबापे ने 65वें मिनट में गोल दागे. क्रोएशिया के लिए पेरिसिच ने 28वें और मांडजुकिच ने 69वें मिनट में गोल दागे. क्रोएशिया इस मैच में हारी जरूर लेकिन उसने अपनी जुझारू क्षमता से हर किसी को प्रभावित किया. हालांकि पहली बार वर्ल्‍डकप चैंपियन बनने का उसका सपना पूरा नहीं हो पाया. बेल्जियम की टीम टूर्नामेंट में तीसरे और इंग्‍लैंड की टीम चौथे स्‍थान पर रही. इंग्‍लैंड के लिए सांत्‍वना देने वाली बात केवल यही रही कि उसके कप्‍तान हैरी केन टूर्नामेंट में सबसे ज्‍यादा गोल करने वाले खिलाड़ी रहे. उन्‍होंने 6 गोल के साथ गोल्‍डन बूट हासिल किया. फ्रांस के एमबापे को यंग प्‍लेयर अवार्ड मिला.

 

FIFA WORLD CUP 2018 के बाद रूस के स्टेडियमों के भविष्य पर अनिश्चितता के बादल

हैरी केन ने टूर्नामेंट में सर्वाधिक 6 गोल दागे. पुर्तगाल के क्रिस्टियानो रोनाल्‍डो, रूस के डेनिस चेरिशेव, बेल्जियम के रोमेलु लुकाकू, फ्रांस के एंटोनियो ग्रीजमैन और इसी देश के काइलियान एमबापे गोल करने के मामले में दूसरे स्‍थान पर रहे. इन सभी खिलाड़‍ियों के खाते में चार-चार गोल रहे.

वीडियो: पहली बार वर्ल्‍डकप के फाइनल में पहुंचा क्रोएशिया

 फ्रांस के 10 नंबर की जर्सी पहनने वाले खिलाड़ी एमबापे ने फाइनल मुकाबले में एक गोल दागा, इसके साथ ही वे वर्ल्‍डकप के फाइनल में गोल बनाने वाले दूसरे सबसे कम उम्र के फुटबॉलर बने. टूर्नामेंट के फाइनल में सबसे कम उम्र में गोल दागने का रिकॉर्ड 'फुटबॉल के जादूगर' कहे जाने वाले ब्राजील के पेले के नाम पर है जिन्‍होंने 60 वर्ष पहले वर्ष 1958 में यह श्रेय हासिल किया था. पेले ने 1958 के फाइनल में दो गोल दागे थे उस समय उनकी उम्र महज 17 साल थी.एमबापे की उम्र इस समय 19 वर्ष है.

Comments
हाईलाइट्स
  • क्रोएशिया को 4-2 से हराकर फ्रांस बना वर्ल्‍डकप चैंपियन
  • फाइनल में फ्रांस के ग्रीजमैन, पोग्‍बा और एमबापे ने किए गए
  • फ्रांस के ग्रीजमैन, एमबापे ने टूर्नामेंट में दागे चार-चार गोल
संबंधित खबरें
FIFA WORLD CUP 2018: इंग्‍लैंड के हैरी केन को
FIFA WORLD CUP 2018: इंग्‍लैंड के हैरी केन को 'गोल्‍डन बूट', टूर्नामेंट में सर्वाधिक 6 गोल दागे
WORLD CUP Semifinal: इंग्‍लैंड को 2-1 से हराकर फाइनल में पहुंचा क्रोएशिया, अतिरिक्‍त समय में हुआ फैसला
WORLD CUP Semifinal: इंग्‍लैंड को 2-1 से हराकर फाइनल में पहुंचा क्रोएशिया, अतिरिक्‍त समय में हुआ फैसला
FIFA WORLD CUP 2018: फाइनल प्रवेश की राह में क्रोएशिया के इस खिलाड़ी को बाधा मान रहा इंग्‍लैंड
FIFA WORLD CUP 2018: फाइनल प्रवेश की राह में क्रोएशिया के इस खिलाड़ी को बाधा मान रहा इंग्‍लैंड
FIFA WORLD CUP 2018:
FIFA WORLD CUP 2018: 'गोल्‍डन बूट' की दौड़ में हैरी केन सबसे आगे, इस खिलाड़ी से मिल सकती है टक्‍कर..
Advertisement