यह आधार था Yuvraj Singh के बड़े कारनामे का, प्रशंसकों ने 12वीं वर्षगांठ पर कुछ ऐसे किया याद

Updated: 19 September 2019 15:14 IST

साल 2007 में टी-20 विश्व कप के इस पहले संस्करण में भारत ने ग्रुप चरण के मैच में इंग्लैंड को हराकर सेमीफाइनल में पहुंचने की अपनी उम्मीदों को जिंदा रखा था. उस मैच में भारतीय टीम 18वें ओवर तक तीन विकेट पर 171 रन बना चुकी थी और वह अंतिम दो ओवरों में अधिक से रन बनाना चाहती थी. और मैच में युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने कमाल कर दिया.

This incident becomes the base of Yuvraj Singh too unique record. That
Yuvraj Singh के कारनामे को करोड़ों भारतीय कभी नहीं भुला पाएंगे

नई दिल्ली:

विश्व क्रिकेट के इतिहास में करोड़ों क्रिकेटप्रेमी कभी भी उन लम्हों के नहीं ही भूल पाएंगे, जो 9 सितंबर सार 2007 के दिन घटा. एक ऐसे पल जो जब भी आंखों के सामने आते हैं, तो रोंगटे खड़े कर देते हैं. और हमेशा ही करते रहेंगे! जी हां, आज की ही तारीख थी जब पूर्व भारतीय हरफनमौला खिलाड़ी युवराज सिंह (Yuvraj Singh) ने 2007 में दक्षिण अफ्रीका में खेले गए टी-20 विश्व कप के एक मैच में इंग्लैंड के तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड की छह गेंदों पर लगातार छह छक्के लगाए थे, लेकिन बहुत, कम लोगों को मालूम है कि आखिर इस रिकॉर्ड का 'आधार' क्या था. खुद युवराज सिंह ने कई साक्षात्कार में इस बात का खुलासा किया है. चलिए एक बार हम फिर से युवराज सिंह के लगातार छह छक्कों के पीछे के बड़े कारण को बता देते हैं. 

यह भी पढ़ें:  कुछ ऐसे Shahid Afridi ने की Virat Kohli की तारीफ

साल 2007 में टी-20 विश्व कप के इस पहले संस्करण में भारत ने ग्रुप चरण के मैच में इंग्लैंड को हराकर सेमीफाइनल में पहुंचने की अपनी उम्मीदों को जिंदा रखा था. उस मैच में भारतीय टीम 18वें ओवर तक तीन विकेट पर 171 रन बना चुकी थी और वह अंतिम दो ओवरों में अधिक से रन बनाना चाहती थी. इस प्रयास में युवराज और महेंद्र सिंह धोनी क्रीज पर डटे हुए थे. युवराज ने 18वें ओवर में एंड्रयू फ्लिंटॉफ की आखिरी दो गेंदों पर दो चौके जड़कर इंग्लैंड को हैरान कर दिया. 

यह भी पढ़ें:  IND vs SA 1st T20I: कुछ ऐसे Rishabh Pant की प्रशंसकों ने की खिंचाई, आई सामने नई मांग

लगातार दो चौके खाने के बाद ओवर खत्म होने पर युवराज सिंह और एंड्रयू फ्लिंटॉफ के बीच बहुत ही गर्मागरम बहस हो गई. मामला इतना ज्यादा बढ़ गया कि युवराज स्कवॉयर लेग की तरफ खड़े फ्लिंटॉफ की तरफ बढ़ें. ऐसे में अंपायरों और धोनी ने बीच-बचाव कर मामला शांत किया, लेकिन इस घटना ने युवराज को बहुत ही ज्यादा गुस्से से भर दिया.

और युवराज अभी तक अपने इंटरव्यू में जिक्र करते रहते हैं कि अगर उन्होंने ब्रॉड के ओवर में लगातार छक्के जड़े, तो उसके पीछे यह घटित घटना एक बड़ी वजह रही. और उनका गुस्सा स्टुअर्ट ब्रॉड पर उतरा. 
 
VIDEO:  धोनी के संन्यास पर युवा क्रिकेटरों के विचार जान लीजिए. 

युवी ने इसके बाद अगले ओवर में जो किया वह अब तक इतिहास में दर्ज है और उस रिकॉर्ड को अब तक कोई नहीं तोड़ पाया है. मैच का 19वां ओवर स्टुअर्ट ब्रॉड लेकर आए और युवराज ने लगातार छह छक्के जड़कर इतिहास रच दिया.  युवराज ने इस दौरान 12 गेदों पर अपना अर्धशतक पूरा किया और टी-20 में वह ऐसा करने वाले पहले बल्लेबाज बने. युवराज की इस शानदार पारी के दम पर भारत ने चार विकेट पर 218 रन का स्कोर बनाया और इंग्लैंड को छह विकेट पर 200 रन पर रोककर 18 रन से मैच जीत लिया.

Comments
हाईलाइट्स
  • कई मौकों पर युवराज ने मानी यह वजह
  • हिंदुस्तान कभी नहीं भूलेगा यह कारनामा!
  • 12 साल पूरे, नहीं मिले ऐसे पल दूजे!!
संबंधित खबरें
सचिन तेंदुलकर सहित कई पूर्व क्रिकेटरों ने  देशवासियों को दीं Vijayadashami की शुभकामनाएं..
सचिन तेंदुलकर सहित कई पूर्व क्रिकेटरों ने देशवासियों को दीं Vijayadashami की शुभकामनाएं..
ट्विटर पर युवराज सिंह और केविन पीटरसन के बीच हुई नोकझोंक, यह है वजह ..
ट्विटर पर युवराज सिंह और केविन पीटरसन के बीच हुई नोकझोंक, यह है वजह ..
...तो Rohit Sharma को टी20 में कप्तान बना देना चाहिए, Yuvraj Singh ने कहा
...तो Rohit Sharma को टी20 में कप्तान बना देना चाहिए, Yuvraj Singh ने कहा
युवराज सिंह ने बयां किया दर्द,
युवराज सिंह ने बयां किया दर्द, 'यो-यो टेस्ट पास करने के बाद भी मुझे भारतीय टीम से बाहर किया गया'
Yuvraj Singh ने Rishabh Pant के मामले में टीम इंडिया मैनेजमेंट को दी यह नसीहत..
Yuvraj Singh ने Rishabh Pant के मामले में टीम इंडिया मैनेजमेंट को दी यह नसीहत..
Advertisement