सौरव गांगुली ने हितों के टकराव पर रखे कई 'अहम प्वाइंट्स'

Updated: 23 August 2019 21:39 IST

इससे पहले इस पूर्व कप्तान ने बीसीसीआई के आचरण अधिकारी सेवानिवृत न्यायधीश डीके जैन द्वारा हितों के टकराव का नोटिस जारी करने पर नाखुशी जतायी. गांगुली से जब पूछा गया कि क्या खेल के दिग्गजों के लिए नियमों में कुछ अपवाद होना चाहिए. उन्होंने कहा, ‘मैं यह नहीं कहूंगा कि नियमों में कुछ अपवाद होना चाहिए

Sourav Ganguly again puts his points about the conflict of interest
सौरव गांगुली की फाइल फोटो

मुंबई:

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने रिकी पोंटिंग का उदाहरण देते हुए कहा कि हितों के टकराव का नियम व्यावहारिक होना चाहिए. गांगुली ने कहा कि पोंटिंग ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट के साथ आईपीएल से भी जुड़े हुए है. सचिन तेंदुलकर, राहुल द्रविड़ और वीवीएस लक्ष्मण के साथ गांगुली को भी बंगाल क्रिकेट संघ (सीएबी) के अध्यक्ष और आईपीएल फ्रेंचाइजी दिल्ली डेयरडेविल्स से जुड़े होने के कारण हितों के टकराव का नोटिस दिया गया था. 

यह भी पढ़ें: वीरेंद्र सहवाग बोले, एक रिकॉर्ड को छोड़ सचिन तेंदुलकर के लगभग सारे रिकॉर्ड तोड़ देंगे विराट कोहली

इससे पहले इस पूर्व कप्तान ने बीसीसीआई के आचरण अधिकारी सेवानिवृत न्यायधीश डीके जैन द्वारा हितों के टकराव का नोटिस जारी करने पर नाखुशी जतायी. गांगुली से जब पूछा गया कि क्या खेल के दिग्गजों के लिए नियमों में कुछ अपवाद होना चाहिए. उन्होंने कहा, ‘मैं यह नहीं कहूंगा कि नियमों में कुछ अपवाद होना चाहिए,  लेकिन नियम व्यावहारिक होने चाहिए.'गांगुली ने कहा, ‘राहुल द्रविड़ को एनसीए का अध्यक्ष बनाया गया है और इंडिया सीमेंट्स के साथ उनकी नियुक्ति को लेकर टकराव की स्थिति बन गयी. आपको ऐसे मामलों में व्यावहारिक होना होगा.  आपको पहले से पता नहीं होता है कि आप एनसीए प्रमुख बनेंगे या नहीं. तीन साल के बाद एनसीए प्रमुख नहीं रहेंगे, लेकिन यह नौकरी (इंडिया सिमेंट) आपके साथ होगी'    

यह भी पढ़ें: रोड्स का खुलासा, इसलिए पहले ही एहसास हो गया टीम इंडिया के फील्डिंग कोच के लिए चयन नहीं होगा

गांगुली ने कहा कि उनका मानना है कि कोचिंग और कमेंटरी हितों के टकराव के तहत नहीं आता. इसका व्यावहारिक हल निकालना होगा. जब आप कमेंटरी या कोचिंग करते है तब मुझे नहीं लगता कि यह हितों के टकराव का मुद्दा है. जब आप पूरी दुनिया को देखेंगे तो रिकी पोंटिंग को देखिए. वह ऑस्ट्रेलिया के कोच है, एशेज में कमेंटरी कर रहे हैं और अगले साल अप्रैल में दिल्ली कैपिटल्स के साथ होंगे'

VIDEO: धोनी के संन्यास पर युवा क्रिकेटरों की राय जान लीजिए. 

पूर्व कप्तान ने कहा, ‘मैं इसे हितों का टकराव नहीं मानता हूं, क्योंकि यह सभी कौशल वाले काम हैं. कमेंटरी, कोचिंग या किसी फ्रेंचाइजी के साथ जुड़ने का फैसला आपका नहीं होता है. आपको आपके कौशल के कारण चुना जाता है. 
 

Comments
हाईलाइट्स
  • पहले द्रविड़ को नोटिस भेजने पर हुए थे नाराज
  • सचिन, लक्ष्मण सहित खुद को भी नोटिस मिला था
  • इसका व्यावहारिक हल निकालना होगा-सौरव
संबंधित खबरें
Sourav Ganguly ने शेयर की BCCI की
Sourav Ganguly ने शेयर की BCCI की 'नई टीम' के साथ यह फोटो...
बृजेश पटेल थे प्रबल दावेदार लेकिन नाटकीय घटनाक्रम के बाद यूं बनी सौरव गांगुली के नाम पर सहमति..
बृजेश पटेल थे प्रबल दावेदार लेकिन नाटकीय घटनाक्रम के बाद यूं बनी सौरव गांगुली के नाम पर सहमति..
Sourav Ganguly ने BCCI अध्यक्ष पद के लिए नामांकन दाखिल किया, निर्विरोध चुना जाना तय
Sourav Ganguly ने BCCI अध्यक्ष पद के लिए नामांकन दाखिल किया, निर्विरोध चुना जाना तय
Sourav Ganguly का बीसीसीआई अध्यक्ष बनना तय: रिपोर्ट
Sourav Ganguly का बीसीसीआई अध्यक्ष बनना तय: रिपोर्ट
Gautam Gambhir बोले-विराट कोहली हैं सौरव गांगुली और MS धोनी से बेहतर टेस्ट कप्तान, यह बताई वजह..
Gautam Gambhir बोले-विराट कोहली हैं सौरव गांगुली और MS धोनी से बेहतर टेस्ट कप्तान, यह बताई वजह..
Advertisement