Sachin Tendulkar ने युवा क्रिकेटरों को दिया 'बड़ा संदेश'

Updated: 26 October 2019 14:11 IST

भारत के लिए 200 टेस्ट और 463 वनडे मैच खेलने वाले सचिन ने अपने लंबे करियर के लिए अपने परिवार और बचपन के कोच रमाकांत आचरेकर के योगदान को अहम बताया. उन्होंने कहा, "क्रिकेट में मैं अपनी सफलता का श्रेय अपने परिवार और सभी सदस्यों को देना चाहता हूं.

Sachin Tendukar gives
Sachin Tendulkar की फाइल फोटो

मुंबई:

भारत के महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर (Sachin Tednulkar) का मानना है कि सफलता हासिल करने के लिए कोई शॉर्टकट नहीं है और अपने सपनों को पूरा करने के लिए आपको कड़ी मेहनत करनी होगी. सचिन ने शुक्रवार को पश्चिमी महाराष्ट्र के एक स्कूल में छात्रों के साथ बातचीत के दौरान यह बात कही. सचिन ने मराठी भाषा में बच्चों से बात करते हुए कहा, "जब मैं छात्र था, तब मेरे दिमाग में केवल एक ही बात थी कि मैं भारत के लिए खेलूं. मेरे सफर की शुरूआत 11 साल की उम्र से हुई थी"

यह भी पढ़ें: यह है BCCI के नए बॉस Sourav Ganguly की इन 'तीन बड़े' मुद्दों पर राय

उन्होंने कहा, "मुझ अभी भी याद है कि जब मैं अपने पहले चयन के ट्रायल के लिए गया था तब चयनकर्ताओं ने मुझे नहीं चुना. उन्होंने कहा उसे (मुझे) कड़ी मेहनत करनी होगी और अपने खेल में सुधार लाना होगा." दिग्गज सचिन ने कहा, "उस समय मैं निराश हो गया था क्योंकि मुझे लगा था कि मैंने बढ़िया बल्लेबाजी की, लेकिन नतीजा उम्मीद के मुताबिक नहीं रहा और मेरा चयन नहीं हुआ. उसके बाद मेरी एकाग्रता, दृढ़ निश्चय, और कड़ी मेहनत की क्षमता बढ़ गई. अगर आप अपने सपने पूरे करना चाहते हैं तो इसमें शॉर्टकट मदद नहीं करेंगे"

यह भी पढ़ें: Virat Kohli ने Sourav Ganguly की 'बड़ी इच्छा' पर दी सहमति

भारत के लिए 200 टेस्ट और 463 वनडे मैच खेलने वाले सचिन ने अपने लंबे करियर के लिए अपने परिवार और बचपन के कोच रमाकांत आचरेकर के योगदान को अहम बताया. उन्होंने कहा, "क्रिकेट में मैं अपनी सफलता का श्रेय अपने परिवार और सभी सदस्यों को देना चाहता हूं. मेरे माता पिता, मेरे भाई अजीत और नितिन जो मेरे सहयोग के लिए आगे आए और उन्होंने मेरा समर्थन किया"

VIDEO:  दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ हालिया सीरीज के दूसरे टेस्ट से पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस में विराट कोहली

सचिन ने कहा, "मेरी बड़ी बहन, जो अब शादी के बाद पुणे में रहती है, ने भी बहुत साथ दिया. वास्तव में उसी ने मुझे जीवन का पहला क्रिकेट का बल्ला दिया था." सचिन अगले साल क्रिकेट खेलते दिखाई देंगे. उनके साथ वीरेंद्र सहवाग, ब्रायन लारा, ब्रेट ली, तिलकरत्ने दिलशान, जोंटी रोड्स भी रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज में खेलते नजर आएंगे.


 

Comments
संबंधित खबरें
अब पाकिस्तान पूर्व ऑलराउंडर अब्दुल रज्जाक ने सचिन और विराट को लेकर अलापा
अब पाकिस्तान पूर्व ऑलराउंडर अब्दुल रज्जाक ने सचिन और विराट को लेकर अलापा 'अलग ही राग'
इसलिए सचिन तेंदुलकर और वीवीएस लक्ष्मण ने दी फिर से सीएसी का हिस्सा बनने पर सहमति
इसलिए सचिन तेंदुलकर और वीवीएस लक्ष्मण ने दी फिर से सीएसी का हिस्सा बनने पर सहमति
सचिन तेंदुलकर बोले, पुरुषों के आंसू बहने में शर्म की कोई बात नहीं
सचिन तेंदुलकर बोले, पुरुषों के आंसू बहने में शर्म की कोई बात नहीं
फैन ने पूछा-मौजूदा समय में आउट करने में सबसे मुश्किल बल्लेबाज कौन, Shoaib Akhtar ने दिया यह जवाब..
फैन ने पूछा-मौजूदा समय में आउट करने में सबसे मुश्किल बल्लेबाज कौन, Shoaib Akhtar ने दिया यह जवाब..
क्रिकेटर और अंधविश्वास: कामयाबी के लिए सचिन तेंदुलकर, राहुल द्रविड़ और अनिल कुंबले आजमाते थे ये
क्रिकेटर और अंधविश्वास: कामयाबी के लिए सचिन तेंदुलकर, राहुल द्रविड़ और अनिल कुंबले आजमाते थे ये 'नुस्खे'
Advertisement