'आउटसाइडर' के टीम इंडिया में चयन पर गौतम गंभीर ने 'दिग्गजों' पर कसा 'जोरदार तंज'

Updated: 12 June 2018 15:51 IST

बता दें कि साल 2013 से पहले तक नवदीप सैनी ने कभी  लेदर बॉल से गेंदबाजी नहीं की थी. उससे पहले तक वह 250-500 रुपये प्रति मैच के हिसाब से टेनिस बॉल क्रिकेट खेला करते थे.  एक दिन ही गंभीर ने उन्हें रोशाआरा क्लब आने का बुलावा भेजा. नवदीप को कुछ भी नहीं सूझ रहा था कि लाल रंग की लेदर बॉल से कैसे गेंदबाजी करनी है..

Gautam Gambhir made
गौतम गंभीर अपनी बेटी के साथ. गंभीर इन दिनों परिवार के साथ पेरिस में छुट्टियां मना रहे हैं.

नई दिल्ली:

टीम इंडिया से काफी समय से बाहर चल रहे गौतम गंभीर ने टीम इंडिया में चयनित दिल्ली के तेज गेंदबाज नवदीप सिंह सैनी के चयन पर लेकर दिल्ली डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन (डीडीसीए) और उससे जुड़े पदाधिकारियों पर बड़ा निशाना साधा है. इन पदाधिकारियों में बिशन सिंह बेदी और चेतन चौहान सहित अन्य आला अधिकारी शामिल हैं. याद दिला दें कि सोमवार को ही मोहम्मद शमी के यो-यो फिटनेस टेस्ट में फेल होने के बाद राष्ट्रीय चयन समिति ने दिल्ली के तेज गेंदबाज नवदीप सिंह सैनी को अफगानिस्तान के खिलाफ खेले जाने वाले इकलौते टेस्ट के लिए भारतीय टीम में शामिल किया है. 

बता दें कि साल 2013 से पहले तक नवदीप सैनी ने कभी  लेदर बॉल से गेंदबाजी नहीं की थी. उससे पहले तक वह 250-500 रुपये प्रति मैच के हिसाब से टेनिस बॉल क्रिकेट खेला करते थे. एक दिन ही गंभीर ने उन्हें रोशनआरा क्लब आने का बुलावा भेजा. यहां गौतम ने नवदीप से गेंदबाजी करने को कहा. नवदीप को कुछ भी नहीं सूझ रहा था कि लाल रंग की लेदर बॉल से कैसे गेंदबाजी करनी है.

नवदीप कहते हैं कि गौतम भैय्या ने कहा कि जैसे टेनिस बॉल से गेंदबाजी करता है, वैसे ही कर. सब अपने आप सही जाएगा. उसी साल गौतम गंभीर की जिद पर नवदीप ने दिल्ली रणजी ट्रॉफी टीम में जगह तो दिला दी, लेकिन वह दिल्ली के अधिकारियों की नजरों में चुभ गए. 

यह भी पढ़ें: IPL 2018, KXIP vs DD: 'घर वापसी' पर यह बन गई गौतम गंभीर की नई समस्या

वजह यह थी कि नवदीप मूल रूप से दिल्ली के नहीं, बल्कि पड़ोसी हरियाणा राज्य से थे. इसी बात को लेकर आए दिन उन्हें अच्छे  प्रदर्शन के बावजूद दिल्ली के अधिकारियों से उपेक्षापूर्ण बर्ताव झेलना पड़ा. उन्होंने 'आउटसाइडर' कहा गया. यहां तक कि स्थानीय मीडिया ने भी अपने लेखों में उनके लिए इस शब्द का इस्तेमाल किया. लेकिन अब अफगानिस्तान के खिलाफ मोहम्मद शमी की जगह उनके बुलावे ने गंभीर को अधिकारियों पर निशाना साधने की ठोस वजह दे दी है. 

VIDEO: गौतम गंभीर ने पिछले साल एनडीटीवी से विस्तार से बात की थी.गंभीर ने अपने ट्विवटर अकाउंट से बिशन सिंह बेदी, चेतन चौहान और बाकी लोगों को संबोधित करते हुए लिखा, आउटसाइडर नवदीप सिंह सैनी के टीम इंडिया में चयन पर डीडीसीए के कुछ अधिकारियों को  मेरी संवेदनाएं. मुझे बताया गया है कि बेंगलुरु में भी 225 रुपये में बांह पर बांधे जाने वाली काली पट्टियां मिल रही हैं!! उन्होंने लिखा, 'सर भारतीय पहले है और उसका डोमिसाइल सर्टिफिकेट बाद में आता है.'
 

 

Comments
हाईलाइट्स
  • टीम इंडिया में 'आउटसाइडर'!
  • इस बात ने खफा किया गंभीर को
  • बिशन सिंह और चेतन चौहान निशाने पर
संबंधित खबरें
जब बिंदी लगाए और दुपट्टा ओढ़े दिखे गौतम गंभीर, वजह पता लगी तो हर किसी ने की प्रशंसा..
जब बिंदी लगाए और दुपट्टा ओढ़े दिखे गौतम गंभीर, वजह पता लगी तो हर किसी ने की प्रशंसा..
गौतम गंभीर ने अंबाती रायुडु को टीम से बाहर करने पर भारतीय मैनेजमेंट को सुनाई खरी-खरी
गौतम गंभीर ने अंबाती रायुडु को टीम से बाहर करने पर भारतीय मैनेजमेंट को सुनाई खरी-खरी
वीरेंद्र सहवाग और गौतम गंभीर को DDCA की समिति में स्‍थान, उठे यह सवाल...
वीरेंद्र सहवाग और गौतम गंभीर को DDCA की समिति में स्‍थान, उठे यह सवाल...
'आउटसाइडर' के टीम इंडिया में चयन पर गौतम गंभीर ने 'दिग्गजों' पर कसा 'जोरदार तंज'
दिल्‍ली के इस खिलाड़ी की मदद के कारण क्रिकेट में ऊंचाई छूते गए तेज गेंदबाज नवदीप सैनी...
दिल्‍ली के इस खिलाड़ी की मदद के कारण क्रिकेट में ऊंचाई छूते गए तेज गेंदबाज नवदीप सैनी...
Advertisement