वीरेंद्र सहवाग और गौतम गंभीर को DDCA की समिति में स्‍थान, उठे यह सवाल...

Updated: 25 July 2018 14:32 IST

सहवाग और गंभीर के अलावा समिति में आकाश चोपड़ा और राहुल संघवी भी होंगे जो दिल्ली क्रिकेट की दिशा और दशा तय करेंगे. इन्हें कोचों और चयनकर्ताओं को चुनने के अलावा खेल से जुड़े अन्य मसलों पर कई अधिकार होंगे. डीडीसीए अध्यक्ष रजत शर्मा ने एक विज्ञप्ति में कहा कि नियुक्तियां लोढ़ा समिति की सिफारिशों के अनुरूप की गई है लेकिन इससे हितों के टकराव को लेकर सवाल उठने लगे हैं.

DDCA Ignores Conflict Clause to Name Sehwag & Gambhir in Cricket Committee
वीरेंद्र सहवाग और गौतम गंभीर को DDCA की नवगठित समिति में रखा गया है (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

क्रिकेट के मैदान पर टीम इंडिया को कई यादगार जीत दिला चुकी वीरेंद्र सहवाग और गौतम गंभीर की सलामी जोड़ी एक बार फिर साथ नजर आएगी. इन दोनों को दिल्ली और जिला क्रिकेट संघ (DDCA)की नवगठित क्रिकेट समिति में रखा गया है. सहवाग और गंभीर के अलावा समिति में आकाश चोपड़ा और राहुल संघवी भी होंगे जो दिल्ली क्रिकेट की दिशा और दशा तय करेंगे. इन्हें कोचों और चयनकर्ताओं को चुनने के अलावा खेल से जुड़े अन्य मसलों पर कई अधिकार होंगे. डीडीसीए अध्यक्ष रजत शर्मा ने एक विज्ञप्ति में कहा कि नियुक्तियां लोढ़ा समिति की सिफारिशों के अनुरूप की गई है लेकिन इससे हितों के टकराव को लेकर सवाल उठने लगे हैं.

जब गौतम गंभीर ने वीवीएस लक्ष्मण को दी पोल खोल डालने की 'धमकी'...

खास बात यह है कि गौतम गंभीर ने अभी क्रिकेट से संन्यास नहीं लिया है लिहाजा वह चयनकर्ताओं का चयन कैसे कर सकते हैं, जो बदले में उन्हें चुनेंगे. गंभीर पिछले साल डीडीसीए में सरकार के प्रतिनिधि थे लेकिन पूर्व प्रशासक जस्टिस विक्रमजीत सेन ने उस फैसले पर रोक लगा दी थी. शर्मा गुट के सत्ता में आने के बाद तय था कि गंभीर को अहम भूमिका मिलेगी. सहवाग की एक क्रिकेट अकादमी है और वह इंडिया टीवी पर कमेंटेटर भी है जिसके मालिक रजत शर्मा खुद हैं.

वीडियो: मैडम तुसाद म्‍यूजियम में विराट कोहली

इसी तरह राहुल संघवी आईपीएल टीम मुंबई इंडियंस से जुड़े हैं जबकि आकाश विभिन्न चैनलों पर कमेंट्री करते हैं. दोनों मुंबई में रहते हैं. डीडीसीए सचिव विनोद तिहाड़ा ने स्वीकार किया कि यह मसला है लेकिन उनके लिए दिल्ली क्रिकेट के शीर्ष नामों को जोड़ना जरूरी था. यह पूछे जाने पर कि ये पद मानद् होंगे या वैतनिक, उन्होंने कहा,‘अभी हमने इस पर फैसला नहीं लिया है लेकिन गौतम विशेष आमंत्रित होंगे.’यह पूछने पर कि क्या उन्हें चयनकर्ताओं और कोचों के चयन में बोलने का अधिकार होगा, उन्होंने कहा,‘निश्चित तौर से, मैं हितों के टकराव पर आपका सवाल समझ सकता हूं लेकिन अगर हम लोढ़ा समिति के सुझावों पर अक्षरश: अमल करें तो क्रिकेट समिति में इतने योग्य लोग नहीं आ सकेंगे.’ (इनपुट: भाषा)

Comments
हाईलाइट्स
  • वीरू-गौती को नवगठित क्रिकेट समिति में रखा गया
  • कोच, सिलेक्‍टर्स चुनने सहित अन्‍य मसलों पर फैसले का अधिकार
  • हितों के टकराव को लेकर उठे सवाल, अभी भी क्रिकेट खेल रहे गंभीर
संबंधित खबरें
Pulwama Attack: सचिन तेंदुलकर व विराट कोहली सहित क्रिकेट जगत ने हमले को बताया कायराना हरकत..
Pulwama Attack: सचिन तेंदुलकर व विराट कोहली सहित क्रिकेट जगत ने हमले को बताया कायराना हरकत..
ऋषभ पंत ने वीरेंद्र सहवाग को बताया
ऋषभ पंत ने वीरेंद्र सहवाग को बताया 'क्रिकेट और बेबीसिटिंग के लिहाज से प्रेरणा'
नए टीवी विज्ञापन में
नए टीवी विज्ञापन में 'बेबीसिटर' बने भारतीय टीम के पूर्व बल्‍लेबाज वीरेंद्र सहवाग, क्‍या आपने देखा?
इसलिए सहवाग चाहते हैं ऑस्ट्रेलिया में रोहित शर्मा हों हर हाल में टेस्ट इलेवन का हिस्सा
इसलिए सहवाग चाहते हैं ऑस्ट्रेलिया में रोहित शर्मा हों हर हाल में टेस्ट इलेवन का हिस्सा
IND vs WI 1st ODI: टीम इंडिया की 8 विकेट की धमाकेदार जीत पर यह बोले दिग्‍गज क्रिकेटर...
IND vs WI 1st ODI: टीम इंडिया की 8 विकेट की धमाकेदार जीत पर यह बोले दिग्‍गज क्रिकेटर...
Advertisement