पूर्व क्रिकेटर अमित भंडारी पर हमला करने वाले U-23 क्रिकेटर पर आजीवन प्रतिबंध..

Updated: 14 February 2019 09:10 IST

अंडर-23 टीम में नहीं चुने जाने पर डेढ़ा ने अपने साथियों के साथ सीनियर और अंडर-23 चयनसमिति के अध्यक्ष भंडारी (Amit Bhandari) पर सेंट स्‍टीफंस मैदान पर सोमवार को तब हमला किया जब वह सीनियर टीम का अभ्यास मैच देख रहे थे. पुलिस ने बाद में डेढ़ा को गिरफ्तार कर लिया और वह अभी पुलिस हिरासत में है.

Amit Bhandari Assault: DDCA bans U-23 player Anuj Dedha for life
अमित भंडारी भारत के लिए दो वनडे मैच खेल चुके हैं (फाइल फोटो)

नई दिल्ली:

भारत के पूर्व तेज गेंदबाज और दिल्ली के मुख्य चयनकर्ता अमित भंडारी (Amit Bhandari)  पर हमला करने वाले दागी क्रिकेटर अनुज डेढ़ा पर दिल्‍ली जिला क्रिकेट एसोसिएशन (DDCA) ने आजीवन प्रतिबंध लगा दिया है. गौरतलब है कि अंडर-23 टीम में नहीं चुने जाने पर डेढ़ा ने अपने साथियों के साथ सीनियर और अंडर-23 चयनसमिति के अध्यक्ष भंडारी (Amit Bhandari) पर सेंट स्‍टीफंस मैदान पर सोमवार को तब हमला किया जब वह सीनियर टीम का अभ्यास मैच देख रहे थे. पुलिस ने बाद में डेढ़ा को गिरफ्तार कर लिया और वह अभी पुलिस हिरासत में है.

टीम के चयन को लेकर विवाद, दिल्‍ली के पूर्व क्रिकेटर अमित भंडारी पर हमला..

दिल्ली के पूर्व कप्तान और डीडीसीए की शीर्ष परिषद के सदस्य गौतम गंभीर ने डीडीसीए अध्यक्ष रजत शर्मा और अन्य चयनकर्ताओं के साथ बैठक के दौरान डेढ़ा पर आजीवन प्रतिबंध लगाने का प्रस्ताव रखा डीडीसीए अध्यक्ष रजत शर्मा ने पीटीआई से कहा, ‘‘अनुज डेढ़ा पर आजीवन प्रतिबंध लगाया गया है. इस बारे में फैसला एक बैठक में किया गया जिसमें चयनकर्ताओं और गौतम गंभीर ने भी हिस्सा लिया जो कि शीर्ष परिषद के सदस्य हैं. हम आम सभा की बैठक में इस सिफारिश को मंजूरी देंगे.'उन्होंने कहा, ‘इसके बाद अब डेढ़ा को किसी क्लबस्तरीय मैच या डीडीसीए से मान्यता प्राप्त किसी टूर्नामेंट में खेलने की अनुमति नहीं मिलेगी.'

शर्मा ने कहा, ‘वह गौतम थे जिन्होंने आजीवन प्रतिबंध लगाने का सुझाव दिया. इसके अलावा उन्होंने सुझाव दिया कि अब से किसी खिलाड़ी के माता-पिता, रिश्तेदारों या दोस्तों को ट्रायल्स देखने की अनुमति नहीं मिलनी चाहिए. केवल खिलाड़ी,  चाहे वह अंडर-14 हो या अंडर-16, को ही स्टेडियम परिसर में घुसने की अनुमति मिलेगी.'डेढ़ा उन 50 संभावित खिलाड़ियों में शामिल थे जिन्हें राष्ट्रीय अंडर-23 वनडे प्रतियोगिता के लिये चुना गया था. उसका मुख्य टीम में चयन नहीं हो पाया जिससे वह खफा हो गया था. उसने अपने साथियों के साथ मिलकर भंडारी पर हॉकी स्टिक, क्रिकेट के बल्लों, लोहे की छड़ों से हमला किया. भंडारी के माथे, कान और पांव में चोट लगी और उन्हें तुरंत अस्पताल पहुंचाया गया. संभावित खिलाड़ियों की संख्या पहले 79 थी और जब हर किसी का मानना था कि डेढ़ा योग्य खिलाड़ी नहीं है तो फिर उसे शीर्ष 50 खिलाड़ियों में कैसे जगह मिल गई. इस बारे में डीडीसीए अध्यक्ष ने कहा, ‘उसने ट्रायल मैच में दो विकेट लिये. उसने मनजोत कालरा (भारत अंडर-19 विश्व कप के स्टार) और जोंटी सिद्धू (वर्तमान में रणजी खिलाड़ी) को आउट किया था. इसलिए उसे शीर्ष 50 खिलाड़ियों में चुना गया लेकिन तीनों चयनकर्ताओं ने कहा कि उन्होंने कभी उसे अंतिम 15 में चयन होने का आश्वासन नहीं दिया था. '

वीडियो: गावस्‍कर बोले, निडर बॉलर हैं कुलदीप और चहल



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
Comments
हाईलाइट्स
  • अनुज डेढ़ा ने अपने साथियों के साथ किया था हमला
  • दिल्‍ली के मुख्‍य चयनकर्ता हैं अमित भंडारी
  • दिल्‍ली के मुख्‍य चयनकर्ता हैं अमित भंडारी
संबंधित खबरें
पूर्व क्रिकेटर अमित भंडारी पर हमला करने वाले U-23 क्रिकेटर पर आजीवन प्रतिबंध..
पूर्व क्रिकेटर अमित भंडारी पर हमला करने वाले U-23 क्रिकेटर पर आजीवन प्रतिबंध..
भारतीय टीम के पूर्व क्रिकेटर अमित भंडारी पर हमला करने के मामले में दो गिरफ्तार
भारतीय टीम के पूर्व क्रिकेटर अमित भंडारी पर हमला करने के मामले में दो गिरफ्तार
टीम के चयन को लेकर विवाद, दिल्‍ली के पूर्व क्रिकेटर अमित भंडारी पर हमला..
टीम के चयन को लेकर विवाद, दिल्‍ली के पूर्व क्रिकेटर अमित भंडारी पर हमला..
Advertisement