नाराज MaryKom ने Abhinav Bindra को ट्रॉयल मसले पर दी यह सलाह

Updated: 19 October 2019 18:39 IST

बीएफआई ने कहा था कि ओलिम्पिक क्वालीफायर के लिए 51 किलोग्राम भारवर्ग में ट्रायल्स नहीं होंगी और मैरी कॉम सीधे तीन से 14 फरवरी के बीच चीन के वुहान में होने वाले क्वालीफायर में खेलेंगी. निखहत ने बीएफआई के इस फैसले पर नाराजगी जताई थी.

agnry MaryKom gives this advise to Abhinav Bindra over the trial
Mary Kom की फाइल फोटो

नई दिल्ली:

निखहत जरीन द्वारा खेल मंत्री को ट्रायल्स के संबंध में पत्र लिखने के बाद दिग्गज महिला मुक्केबाज एमसी मैरी कॉम ने कहा है कि वह निखत को नहीं जानती. मैरी कॉम और निखहत ओलम्पिक क्वालीफायर के लिए ट्रायल्स के आयोजन को लेकर एक-दूसरे के आमने-सामने हैं. मैरी ने अंग्रेजी समाचार चैनल से कहा, "निखहत जरीन कौन है? मैं उन्हें नहीं जानती. जो हो रहा है मैं उससे बेहद दुखी हूं. मैंने विश्व चैम्पियनशिप में आठ पदक अपने नाम किए हैं, जिसमें छह स्वर्ण पदक हैं. भारतीय मुक्केबाजी महासंघ (बीएफआई) को फैसला करने दीजिए की वह किसे भेजना चाहते हैं.वह इस तरह की बातें कैसे कर सकती हैं? भारतीय टीम में जगह बनाने के लिए वह लॉबिंग नहीं कर सकतीं. यह सही नहीं है."

यह भी पढ़ें: Manju Rani फाइनल में हारीं, रजत से करना पड़ा संतोष, लेकिन...

बीएफआई ने कहा था कि ओलिम्पिक क्वालीफायर के लिए 51 किलोग्राम भारवर्ग में ट्रायल्स नहीं होंगी और मैरी कॉम सीधे तीन से 14 फरवरी के बीच चीन के वुहान में होने वाले क्वालीफायर में खेलेंगी. निखहत ने बीएफआई के इस फैसले पर नाराजगी जताई थी. निखहत ने बुधवार को कहा था कि बीएफआई अध्यक्ष अजय सिंह से संपर्क करने में विफलता के बाद वह खेल मंत्री से बात करेंगी और निखहत ने ठीक वैसा ही किया. उन्होंने गुरुवार को ट्वीटर पर खेल मंत्री को लिखे पत्र को साझा भी किया था.

यह भी पढ़ें: Marykom को करना पड़ा कांस सें संतोष, Manju Rani फाइनल में, रजत पक्का

निखहत के ट्वीट को ओलिंम्पिक स्वर्ण पदक विजेता निशानेबाज अभिनव बिंद्रा का भी समर्थन मिला था. मैरी कॉम ने बिंद्रा को भी आड़े हाथों लिया है और कहा है कि उन्हें निशानेबाजी पर ध्यान देना चाहिए. मैरी कॉम ने कहा, "मैं जानती हूं कि इसके पीछे कौन है. यह जेएसडब्ल्यू के लोग हैं और मैं अभिनव बिंद्रा से कहना चाहती हूं कि आप मुक्केबाजी के बारे में कुछ नहीं जानते हैं इसलिए आप कृपया निशानेबाजी पर ध्यान दें. मैं एक दशक से ज्यादा से मुक्केबाजी कर रही हूं और मुझे कितनी बार ट्रायल्स से गुजरना होगा. क्या मेरे रिकार्ड और पदक मेरे बारे में नहीं बताते"

VIDEO: कुछ दिन पहले पीवी सिंधु ने मैरीकॉम से बात की थी. 

रिजिजू ने हालांकि कहा है कि वह मंत्री होने के नाते खिलाड़ियों के चयन का हिस्सा नहीं होते. उन्होंने कहा, "मैं इस बात को बीएफआई तक जरूर ले जाऊंगा ताकि देश को प्राथमिकता देते हुए सर्वश्रेष्ठ नतीजा निकाला जा सके"
 

Comments
हाईलाइट्स
  • ओलिंपिक क्वालीफायर के लिए ट्रायल को लेकर है विवाद
  • निखत जरीन ने खेल मंत्री को लिखा है पत्र
  • मैं निखत को नहीं जानती-मैरीकॉम
संबंधित खबरें
मैरीकॉम ने हाई-फाई मुकाबला तो जीता, लेकिन गाली-गलौज छोड़ गया सवाल
मैरीकॉम ने हाई-फाई मुकाबला तो जीता, लेकिन गाली-गलौज छोड़ गया सवाल
इस वजह से प्रशंसकों ने उठाए Mary kom की खेल भावना पर सवाल, लेकिन...
इस वजह से प्रशंसकों ने उठाए Mary kom की खेल भावना पर सवाल, लेकिन...
BOXING: कुछ ऐसे मेरीकॉम ने निकहत जरीन को हराकर पाया ओलिंपिक ट्रॉयल में हिस्सा लेने का हक
BOXING: कुछ ऐसे मेरीकॉम ने निकहत जरीन को हराकर पाया ओलिंपिक ट्रॉयल में हिस्सा लेने का हक
BOXING: निकहत जरीन ओलिंपिक क्वालीफायर के फाइनल में पहुंचीं, अब बड़ा मुकाबला मेरीकॉम से
BOXING: निकहत जरीन ओलिंपिक क्वालीफायर के फाइनल में पहुंचीं, अब बड़ा मुकाबला मेरीकॉम से
Big Bout League: पंजाब रॉयल्स के लिए खेलेंगी मेरीकॉम, सभी टीमों पर नजर दौड़ा लें
Big Bout League: पंजाब रॉयल्स के लिए खेलेंगी मेरीकॉम, सभी टीमों पर नजर दौड़ा लें
Advertisement